Saturday, May 15, 2021
- Advertisement -

अमेरिका की बढ़िया नौकरी को छोड़, भारत वापस आकर देश की सेवा करने लगी देश की IPS बेटी…

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

आज के समय में बच्चे पढ़-लिखकर एक अच्छी नौकरी पाना चाहते हैं और अगर उन्हें विदेश से नौकरी का ऑफर मिल जाए तो इससे बड़ी बात उनके लिए नहीं हो सकती और वह विदेश जाकर रहने लगते हैं| लेकिन अपने देश का क्या? परंतु यदि मैं आपको यह कहूँ कि एक लड़की ने अमेरिका की लाखों रुपये की नौकरी को ठुकरा कर अपने वतन वापस आकर देश सेवा का विकल्प चुना है तो शायद आपको मेरी बातों पर विश्वास न हो| लेकिन यह सौलह आने सच बात हैं| आइए जानते हैं इस देश प्रेमी लड़की के बारें में|

Instagram

बड़ी ही रोचक कहानी है इल्मा अफ़रोज़ की
उत्तरप्रदेश में मुरादाबाद के एक छोटे से गाँव कुंदरकी में रहने वाली इल्मा अफ़रोज एक बहुत ही होनहार और मेहनती लड़की है| इल्मा ने अपने गाँव कुंदरकी को जिसे शायद ही कोई जानता था आज उसे भी एक नई पहचान दी है| आज जब भी कुंदरकी की बात होती है तो उस वार्तालाप का विषय सिर्फ और सिर्फ इल्मा ही होती है| आज देश प्रेमी इल्मा ने वो कर दिखाया है जो हर किसी के बस की बात नहीं है|

बचपन में ही हो गया था पिता का देहांत
इल्मा जब 14 वर्ष की थी तो उनके पिता का देहांत हो गया था| इल्मा के पिता घर चलाने का एकमात्र साधन थे| पिता के देहांत के बाद तो मानो इल्मा पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा, क्यूंकि घर की सारी ज़िम्मेदारी इल्मा के कंधों पर आ गई थी| लेकिन उनकी अम्मी ने उनका साथ दिया और उनकी पढ़ाई पर किसी भी तरह का असर नहीं पड़ने दिया| लेकिन इल्मा अब अपनी अम्मी को ज्यादा परेशान नहीं करना चाहती थी|

लोगो ने बोला कि शादी कराके बोझ कम करो, लेकिन अम्मी ने किसी की एक नहीं सुनी
जब इल्मा के पिता का देहांत हो गया था तो लोगो और रिशतेदारों ने कहा कि इस लड़की की पढ़ाई में पैसा लगाने की जरूरत नहीं है यह लड़की है पढ़-लिखकर भी क्या कर लेगी, इसकी शादी करा दो बोझ कम हो जाएगा| लेकिन इल्मा की अम्मी उनकी पढ़ाई में कोई रुकावट नहीं चाहती थी और उन्होंने इल्मा की शादी के पैसो को इल्मा की पढ़ाई में लगा दिया| लोगों ने बहुत ताने मारे, लेकिन इल्मा की माँ को इल्मा पर पूरा विश्वास था|

सेंट स्टीफेंस दिल्ली से ऑक्सफोर्ड तक का सफर
इल्मा ने अपनी उच्च शिक्षा के लिए दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज में दाखिला ले लिया| इल्मा की सम्पूर्ण उच्च शिक्षा छात्रवृति के आधार पर ही हुई थी| सेंट स्टीफेंस से पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्हें ऑक्सफोर्ड जाने का अवसर मिला| जब इल्मा ऑक्सफोर्ड पहुंची तो उन्होंने वहाँ भी अपना अच्छा प्रदर्शन किया| ऑक्सफोर्ड में गुजारे के लिए इल्मा कभी-कभी ट्यूशन भी पढ़ाती थी और अपनी सफलता पर इल्मा कभी घमंड नहीं करती थी|

अमेरिका की लाखों की नौकरी छोड़कर लौटी अपने मुल्क
ऑक्सफोर्ड में पढ़ाई करने के साथ-साथ उनके मन में कहीं न कहीं देश के लिए कुछ करने का भाव आता था| ऑक्सफोर्ड से पढ़ाई पूरी करने के बाद इल्मा को न्यूयॉर्क में नौकरी करने का अवसर मिला, लेकिन इल्मा ने यह अवसर ठुकरा दिया| वह चाहती तो उस नौकरी को कर अपने परिवार के साथ एक अच्छी जिंदगी जी सकती थी, लेकिन नहीं इल्मा का मानना था कि उनपर और उनकी शिक्षा पर सबसे पहला अधिकार उनके देश और उनकी अम्मी का है|

भारत वापस लौट कर पास की UPSC परीक्षा और बन गईं IPS अफसर
उसके बाद इल्मा ने अपने मुल्क भारत वापस आने का फैसला किया| यहाँ आकर उन्होंने देखा कि लोगों को उनपर विश्वास हो रहा था कि अब तो गाँव की बिटिया विलायत से पढ़ आई अब हमारे दिन बदल जाएंगे| तब उन्होंने UPSC की परीक्षा देने का ठाना| इल्मा ने UPSC की परीक्षा दी और उसमें 217वीं रैंक हासिल की| इसके बाद तो इल्मा का सपना मानो पूरा हो गया था| अब वह देश की सेवा में अपना जीवन समर्पित करना चाहती थी|

इल्मा ने IPS सर्विस ही क्यूँ चुनी
इल्मा ने यह साबित कर दिया कि देश कि बेटी सिर्फ रक्षण मांग ही नहीं सकती बल्कि रक्षण दे भी सकती है| जब सर्विस चुनाव की बारी आई तो उन्होंने आईपीएस चुना, तब उनसे पूछा गया कि IPS ही क्यूँ भारतीय विदेश सेवा क्यूँ नहीं| तब इल्मा ने कहा कि वह अपने देश के लिए काम करना चाहती हैं और अपनी जड़ों को सींचना चाहती है|

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -