Tuesday, May 11, 2021
- Advertisement -

सब्जी बेचने मुंबई से यूपी आए बालिका वधू के डायरेक्टर, लोग देखकर हुए हैरान

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

कोरोना वायरस ने अच्छे-अच्छे लोगों की किस्मत पलट कर रख दी है. इस महामारी ने लोगों से उनके जीने का जरिया भी छिन लिया है. चीन से शुरू हुए इस वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है. कलर्स पर प्रसारित होने वाले मशहूर सीरियल ‘बालिका वधू’ ने लोगों को खूब मनोरंजन किया था लेकिन आज उसी बालिका वधू के डायरेक्टर रामवृक्ष गौड़  अपनी रोजी-रोटी चलाने के लिए पर सब्जी बेच रहे हैं.  अपने इशारों पर लोगों को हंसाने वाले रामवृक्ष आज अपनी स्थिति को लेकर गांव में सब्जी बेचने को मजबूर हैं. रामवृक्ष ने रामवृक्ष ने कहा कि मुझे इस काम को करने में कोई परेशानी नहीं हुई है. काम कोई भी छोटा नहीं होता है. परिवार का पेट पालने के लिए मुझे ये काम करना पड़ रहा है. मुझे इस काम को करने में कोई दिक्कत नहीं हो रही है. डायरेक्टर रामवृक्ष के परिवार में एक बेटा एक बेटी और पत्नी है. इनके बच्चों का कहना है कि हमें विश्वास है कि हम बहुत जल्दी मुंबई लौट जाएंगे. फिर से हम स्कूल जाएंगे और अपने दोस्तों के साथ मौज-मस्ती करेंगे. इस विषम परिस्थति में भी डायरेक्टर की पत्नी अनिता गौड़ उदास नहीं है. उनका कहना है कि बहुत जल्द हमारे अच्छे दिन आ जाएंगे.

Aaj tak

25 से ज्यादा सीरियल में काम कर चुके गौड़ का कहना है कि उम्मीद पर दुनिया टिकी हुई है. उम्मीद कर रहे हैं कि अच्छे दिन फिर से आएंगे और हमारी जिं़दगी पहले की तरह हो जाएगी.

बालिका वधू के अलावा रामवृक्ष कई सीरियल और फिल्मों में डायरेक्शन का काम कर चुके हैं. यूपी के आजमगढ़ में रह रहे रामवृक्ष ने अपने इशारों पर कई कलाकारों को स्टार बनाया है, लेकिन आज उनके अपने ही सितारे गुम हो गए हैं. रामवृक्ष का कहना है कि रील लाइफ से रियल लाइफ की जिं़दगी में सामंजस्य बिठाना बहुत मुश्किल है. मुंबई छोड़कर अपने गृह नगर में ये सब्जी बेचकर अपना और अपने बच्चों का पेट पाल रहे हैं.

रामवृक्ष के सब्जी बेचने की ख़बर आग की तरह आजमगढ़ में फैल गई है. लोगों को उनकी ये स्थिति देखी नहीं जा रही है. अपने इशारों से कलाकारों का फर्श े से अर्श तक पहुंचाने वाले रामवृक्ष आज अपनी स्थिति पर चिंता जताते हुए कहा है कि इस लाॅकडाउन ने मेरी जिं़दगी को पूरी तरह बदल दिया है. काम नहीं मिलने की वजह से मुझे ये काम मजबूरी में करना पड़ रहा हैं.

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -