Saturday, November 27, 2021
- Advertisement -

बड़ी खबर: एलियंस लगातार भेज रहे हैं वैज्ञानिकों को सिग्नल, क्या कभी भी आ सकते हैं धरती पर आइए जानते हैं

Must Read

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...

आपकी लाइफ बदल देगा मिट्टी का ये ए. सी. , बिना बिजली और बिना खर्च के देता है ठंडक

नई दिल्ली : जिस तरह से गर्मी बढ़ती जा रही जा रही है एयर कंडीशनर का प्रयोग भी बढ़ता...

अंग्रेजी हुकूमत को चारों खाने चित्त कर दिया था बोरोलीन ने, आज भी बाजार में है इस क्रीम का दबदबा

बोरोलीन बाज़ार में एक जानी मानी एंटीसेप्टिक क्रीम की ब्रांड है। आज इतने वर्षों बाद भी बोरोलीन का बाज़ार...

एलियंस एक ऐसा विषय, जो सभी को अपने नाम से ही रोमांचित कर देता है| याद है न ऋतिक रौशन की फिल्म का “जादू” जिसको देख सभी के मन में एलियंस के बारें में अलग-अलग विचार आने लगे| एलियंस हमेशा से ही एक रोमांचकारी और रहस्यमयी विषय रहा है| हर कोई इस विषय के बारें में जानना चाहता है| हर कोई जानना चाहता है कि क्या सच में एलियंस होते हैं या क्या सच में एलियंस दूसरे ग्रह पर रहते हैं या फिर क्या कभी एलियंस धरती पर आएंगे| आमतौर पर ऐसे सवाल उठना लाज़्मी है क्यूंकि यह विषय ही ऐसा है| लेकिन आपको बता दे कि वैज्ञानिकों को कुछ सिग्नल मिल रहे हैं क्या यह सिग्नल एलियंस भेज रहे हैं आइए जानते हैं

वैज्ञानिकों को मिल रहे सिग्नल

एलियंस का विषय हमेशा से ही चर्चाओं में रहता है| अब बता दें कि हाल ही में वैज्ञानिकों की एक अंतर्राष्ट्रीय टीम को एक ग्रह के अधिक दूर से कुछ सिग्नल प्राप्त हो रहे हैं| यह ग्रह ताऊ बुट्स नाम के तारे की प्रणाली में शामिल है| अब सवाल यह उठता है कि क्या यह सिग्नल एलियंस के द्वारा भेजे जा रहे हैं?

वैज्ञानिक जैक टर्नर कर रहे हैं टीम को लीड

बता दें कि जो टीम इन प्राप्त सिग्नलों की जांच कर रही है उस टीम को कॉर्नेल विश्वविद्यालय के पोस्टडॉक्टोरल शोधकर्ता जैक टर्नर लीड कर रहे हैं| जैक टर्नर ने अपने शोध में बताया कि यह सिग्नल ताऊ बुट्स सिस्टम से प्राप्त हो रहे हैं| उन्होंने बताया कि यह सिग्नल ग्रह की ध्रुवीकरण और चुम्बकीय क्षेत्र की ताकत के कारण प्राप्त हो रहे हैं| जैक टर्नर बताते हैं कि उनके शोध में एलियंस को लेकर अनेकों बातें सामने आई हैं जिसके मद्देनजर इस पर शोध करना आवश्यक हो जाता है|

क्या धरती पर पहले ही आ चुके है एलियंस

हर कोई जानना चाहता है कि एलियंस धरती पर हैं या नहीं| तो आपको बता दें कि इस वर्ष एलियंस की रहस्यमयी बातों से पर्दा उठने जा रहा है| बता दें कि इजरायल के पूर्व अन्तरिक्ष प्रमुख हैम एशेद ने एलियंस के एक गैलेक्टिक फ़ैडरेशन के बारें में बताया है| जो मानवता के भीतर ही मौजूद है|

नासा के वैज्ञानिक का दावा कि एलियंस धरती पर मौजूद हैं

दरअसल नासा के एक वैज्ञानिक ने दावा किया है कि एलियंस हमारी धरती पर आ चुके हैं, शायद हम उन्हें देख नहीं पाए होंगे| नासा के कम्प्युटर वैज्ञानिक और प्रोफेसर सिल्वानो पी कोलंबानों ने अपने शोध में इस बात का दावा किया है कि एलियंस मनुष्य की अपेक्षाओं से बहुत अलग दिखते होंगे| उनकी संरचना कार्बन आधारित जीवों से हुई हो| जिसकी वजह से वह अभी तक अनदेखे हों| सिल्वानो अपने शोध में लिखते हैं कि मैं यह कहना चाहता हूँ कि यह आवश्यक नहीं कि जिन्हें हम ढूंढ रहे हैं या जो हमे ढूंढ रहे हैं वह हमारी तरह कार्बन आधारित जीवों पर आधारित हों| सिल्वानो के अनुसार वैज्ञानिकों को हमारी सबसे प्रतिष्ठित मान्यताओं पर ध्यान देना चाहिए|

अत्यंत सूक्ष्म हो सकते हैं एलियंस

सिल्वानो के अनुसार एलियंस सुपर इंटेलिजेंट है और आकार में अधिक सूक्ष्म भी हो सकते हैं| उनका कहना है कि वैज्ञानिकों को नई तकनीकों और अवधारणाओं पर काम करना चाहिए| क्यूंकि यदि हम नए तरीके से विचार करेंगे तो हो सकता है कि हमे इसके लिए नई तकनीक मिल जाए|

- Advertisement -

Latest News

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -