Sunday, May 16, 2021
- Advertisement -

10 रुपये में पेटभर भोजन खाने के लिए दिल्ली वाले यहां लगाते हैं लंबी लाइन

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

New Delhi: मंहगाई चरम सीमा पर है। दो वक्त की रोटी खाने के लिए लोगों को कई मुश्किलों से होकर गुजरना पड़ रहा है। वहीं इन सबके बीच एक शख्स ऐसे भी हैं जो महज 10 रुपये में पेटभर भोजन खिला रहे हैं। पेटभर भोजन खाने के लिए इनके रेस्टोरेंट पर भारी भीड़ जुटती है। हालांकि लोगों की शिकायत है कि इस रेस्टोरेंट को रात में खोलना चाहिए। जिससे 10 रुपये में रात का खाना भी हो जाए। बताते चले कि यह रेस्टोरेंट फिलहाल दिन में ही खुलती है। दिल्ली के बाबरपुर मेट्रो स्टेशन के पास यह रेस्टोरेंट है। जहां लोगों को 10 रुपये में पेट भर भोजन खिलाया जाता है। खाने में चावल सब्जी, दाल, पूड़ी और भर प्लेट हलवा मिलता है। हालांकि वीकेंड पर मेन्यू में बदलाव रहता है।

image tweeted by kiran verma

कैसे हुई इस रेस्टोरेंट की शुरुआत
किरन वर्मा जो इस रेस्टोरेंट को चलाते हैं। वह बताते हैं कि लॉकडाउन में उनके एक दोस्त की नौकरी छूट गई। वह खाने के लिए मोहताज हो गया। जिसे देखकर मैंने सोचा कि मेरे दोस्त की तरह न जाने कितने ऐसे लोग होंगे जिनको खाना नसीब नहीं होता है। इसलिए मैंने यह रेस्टोरेंट खोला। वर्मा बताते हैं कि उन्होंने रेस्टोंरेट में काम करने के लिए 10 लोगों को नौकरी दी, जिनकी कोराना काल में नौकरी चली गई थी। वर्मा कहते हैं कि वह 10 रुपये इसलिए लेते हैं कि जिससे लोग स्वाभिमान के साथ खाना खा सके। साथ ही इन पैसों से वह अपने यहां काम करने वाले लोगों को सैलरी देते हैं। इस रेस्टोरेंट का महीने का 60 हजार रुपये पेय करते हैं।

क्या कहते हैं लोग
पेट भर भोजन 10 रुपये में खाने के बाद लोगों से उनकी प्रतिक्रिया जानी। एक शख्स जो बाबरपुर मेट्रो स्टेशन के पास ही काम करते हैं, वह बताते हैं कि खाना बेहद ही अच्छा होता है, दोपहर का खाना मैं यहीं खाता हूं। 50 साल के अनिल कहते हैं कि वह घर से लंच लाते थे। लेकिन अब यहीं पर बैठकर खाना खाते हैं.वह कहते हैं कि हम अन्य लोगों को भी यहां आकर खाने खाने की सलाह देते हैं। ज्यादतर लोगों का यहीं कहना था।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -