Saturday, November 27, 2021
- Advertisement -

मां के कमरे की सफाई के दौरान बेटे को मिली दादाजी की डायरी, जिसमें छुपे थे ये राज

Must Read

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...

आपकी लाइफ बदल देगा मिट्टी का ये ए. सी. , बिना बिजली और बिना खर्च के देता है ठंडक

नई दिल्ली : जिस तरह से गर्मी बढ़ती जा रही जा रही है एयर कंडीशनर का प्रयोग भी बढ़ता...

अंग्रेजी हुकूमत को चारों खाने चित्त कर दिया था बोरोलीन ने, आज भी बाजार में है इस क्रीम का दबदबा

बोरोलीन बाज़ार में एक जानी मानी एंटीसेप्टिक क्रीम की ब्रांड है। आज इतने वर्षों बाद भी बोरोलीन का बाज़ार...

New Delhi: अकसर जब आप कई महीनों के बाद पूरे घर की सफाई करते हैं तो कई बार ऐसी चीजे मिल जाती हैं, जिन्हें देखकर आपको पुराना वक्त याद आ जाता है। इन चीजों में करंसी के साथ पुरानी किताब और पुरानी कोई फोटों सहित अन्य चीजे भी शामिल रहती हैं। आज बात ऐसे ही एक शख्स की जिन्होंने घर की साफ-सफाई की। जब वह अपने मां के कमरे की साफ-सफाई करने गए तो उन्हें अपने दादाजी की एक पुरानी डायरी मिली। जिसके अंदर कुछ ऐसे राज थे, जिनके बारे में इस शख्स को भी नहीं पता था। दादा की इस पुरानी डायरी में हस्ताक्षर थे। हस्ताक्षर किसी ओर के नहीं बल्कि महात्मा गांधी व प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के थे। दादा की डायरी में महान लोगों के हस्ताक्षर को देख यह शख्स काफी खुश हुआ। इस शख्स का नाम विजय बसरूर। जो कि मुंबई स्थित अपने घर की साफ-सफाई कर रहे थे। बताते चले कि विजय के दादादी की डायरी में बीआर आंबेडकर, सीवी रमन जैसी महान हस्तियों के हस्ताक्षर थे। खास बात यह है कि बसरूर ने अपनी इस खुशी को सोशल मीडिया पर जाहिर की है। जिस तरह से किसी बच्चे के हाथ खजाना लग जाता है, ठीक उसी प्रकार बसरूर के हाथों दादा की डायरी लग गई।

सोशल मीडिया पर विजय बसरूर ने डायरी के बारे में यह लिखा

बसरूर ने हस्ताक्षर किए गए पेजों के फोटो लिए और उसे सोशल मीडिया पर शेयर किया। उन्होंने लिखा कि मैं मां के कमरे की कई दिनों से सफाई कर रहा था। शनिवार को जब मैं सफाई कर रहा था, तो मुझे ऐसी चीज मिली जो घर में पिछले 30 सालों से थी। मुझे दादा की ऑटोग्राफ बुक मिली। जिसमें महात्मा गांधी, नेहरू, बीआर अंबेडकर और सीवी रमन के ऑटोग्राफ मिले।

हस्ताक्षर के फोटो हुई वायरल

विजय बसरूर के द्वारा हस्ताक्षर के फोटो सोशल मीडिया पर डालने के बाद से ही वह वायरल हो चुके हैं। जिस पर लोगों के तरह-तरह कमेंट भी आ रहे हैं, एक यूजर लिखते हैं कि क्या ये सच में गांधी के द्वारा हस्ताक्षर हैं, इसी पर एक यूजर कमेंट करते हैं कि क्या गांधी तेलगु थे। बताते चले कि लोग इस फोटो को शेयर कर रहे हैं, और लगातार लोगों की प्रतिक्रिया आ रही है।

- Advertisement -

Latest News

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -