Saturday, April 17, 2021
- Advertisement -

इंजीनियरिंग का छात्र,लोगों से सुनता है डिप्रेशन की कहानी और देता है 10 रुपये

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

New Delhi: पढ़ाई पूरी होने के बाद अच्छी नौकरी मिलेगी न, अगर नहीं मिली तो क्या होगा। पढ़ाई से लेकर नौकरी के बीच युवाओं को कई तरह के टेंशन से होकर गुजरना पड़ता है। ऊपर से भागदौड़ भरी जिंदगी,जिसमें हमारे युवा डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं। इस दौरान वह न किसी अपने रिश्तेदारों से मिल पाते हैं और न ही दोस्तों से, इस कारण वह अपनी समस्या भी साझा नहीं कर पाते हैं। डिप्रेशन एक शब्द नहीं बल्कि एक ऐसी बीमारी है जिसे हम अपने शरीर में खुद लाते हैं।

डिप्रेशन की वजह से लोग करते हैं आत्महत्या

the logically

इस साल डिप्रेशन की वजह से कई मशहूर लोगों ने आत्म हत्या कर ली। आज हम बात करेंगे एक ऐसे छात्र की जो दूसरे लोगों से डिप्रेशन की कहानी सुनकर आनंद उठाता है, और बदले में कहानी सुनाने वाले शख्स को 10 रुपये भी देता है।

इंजीनियरिंग का है छात्र,, जो सुनता है डिप्रेशन की कहानी

representation image

सडक़ किनारे हाथ में एक बैनर लिए एक इंजीनियरिंग का छात्र रहता है। उसके बैनर पर लिखा होता है, आओ और मुझे अपनी डिप्रेशन की कहानी सुनाओ, इसके बदले में तुम्हें 10 रुपये दूंगा। हालांकि कुछ लोग छात्र के पास जाते हैं और 10 रुपये लेकर अपनी डिप्रेशन की कहानी बयां कर देते हैं। इस छात्र का नाम है विनायक डगवार। विनायक पूणे के इंजीनियरिंग कॉलेज का छात्र हैं। विनायक उन लोगों की मदद कर रहे हैं जो डिप्रेशन का शिकार हो रहे हैं।

डिप्रेशन की कहानी सुनाकर लोगों को हो रहा है मन हल्का
छात्र विनायक हर हफ्तें लोगों की डिप्रेशन की कहानी सुनने के लिए एफसी रोड किनारे खड़े होते हैं। उनके हाथ में एक बैनर या बोर्ड भी होता है, जिस पर लिखा होता है आओं मुझे अपनी कहानी बताओ, जिसके बदले तुम्हें 10 रुपये दूंगा। जिससे लोगों का मन भी हल्का होता है और 10 रुपये की कमाई भी होती है।

आखिर क्यों सुनते हैं डिप्रेशन की कहानी
विनायक बताते हैं कि वह लोगों की कहानी सुनकर उनका दर्द कम करना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि एक दिन उन्होंने एक विदेशी की फोटो देखी, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही थी। जिसमें यह जानकारी मिली कि वह विदेशी शख्स लोगों की कहानी सुनने पर 1 डॉलर दे रहा था। बस यहीं से ख्याल आया कि क्यों न मैं भी यह कार्य करूं। खास बात यह है कि इस कार्य को करने के लिए लोगों की ओर से उन्हें काफी सराहना भी मिल रही है।

 

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -