Friday, April 23, 2021
- Advertisement -

कभी दूध बेची फिर वेटर बना,अब है केक कंपनी का मालिक, सालाना करोड़ों रुपये की हो रही है कमाई

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

New Delhi: आज की कहानी उन लोगों के लिए जो यह सोचते हैं कि किस्मत में होगा तो बड़ा आदमी बन जाऊंगा। लेकिन किस्मत के भरोसे बैठने वाले लोग हमेशा बैठे ही रहते हैं। इसलिए आज एक ऐसे शख्स की कहानी आपके सामने पेश कर रहे हैं, जिन्होंने अपने जीवन में कड़ा संघर्ष कर अपनी कंपनी बनाई और सालाना करोड़ों रुपये की कमाई कर रहे हैं। इस शख्स का नाम है सुनील वशिष्ठ। सुनील बताते हैं कि स्कूल के दिनों में दूध बेचने का काम करते थे। फिर जब कॉलेज आए तो पैसे की तंगी की वजह से एक कुरियर कंपनी में नौकरी करने लगे। हालांकि वह पढ़ाई को जारी रखना चाहते थे, लेकिन नौकरी की वजह से वह ऐसा नहीं कर पाए और फूल टाइम जॉब करने लगे। यहां एक से डेढ़ साल नौकरी करने के बाद उन्होंने कंपनी से इस्तीफा दे दिया। सुनील बताते हैं कि कंपनी में सैलरी ज्यादा नहीं थी, और परमोशन भी नहीं हो रहा था।

dainik bhaskar

इसके बाद वह एक डोमिनो पिज्जा नाम की दुकान पर काम करने लगे। यहां धीरे-धीरे उनको प्रमोट भी किया गया। एक दिन उनकी मेहनत रंग लाई और वह मैनेजर बनाए गए। सबकुछ ठीक चल रहा था। इस बीच साल 2003 में अचानक उनकी पत्नी की तबियत खराब हुई। पत्नी की तबियत खराब है, जैसे ही यह सूचना सुनील तक पहुंची वह अपने एक जूनियर को काम का भार सौंपकर पत्नी को मिलने अस्पताल चले गए। लेकिन अगले दिन उनकी जॉब चली गई। सुनील फिर बेरोजगार हो चुके थे। इसी बीच उनके घर एक बेटी का जन्म हुआ। जिसे लेकर आस-पास के लोग ताने मारते थे, कि बेटी का जन्म होते ही तेरी नौकरी चली गई। इसके बाद आया जीवन का सबसे बड़ा बदलाव

dainik bhaskar

नोएडा में खोली केक की दुकान, एक महिला के ऑर्डर ने बदल दी जिंदगी
सुनील बताते हैं कि काम था नहीं , इधर लोग ताने मारते थे कि बेटी के जन्म होने के बाद देखों तेरी नौकरी चली गई। पर मैंने कभी अपनी बेटी के बारे में ऐसा नहीं सोचा। वह बताते हैं कि उन्होंने कर्ज लेकर नोएडा के एक मॉल में अपनी केक की दुकान खोली।

representation image pixabay

हालांकि कुछ दिन काम अच्छा नहीं चला,लेकिन एक दिन एक महिला ने मेरे यहां से केक लिया। और उसने मुझे केक के लिए धन्यवाद करते हुए कहा कि अब से लेकर जितने भी कार्यक्रम होंगे वहां आपकी कंपनी से केक मंगवाया जाएगा। यह महिला और कोई नहीं एचसीएल कंपनी की एचआर ह़ेड थी। इसके बाद धंधा काफी चला, सुनील बताते हैं कि आज उनके यहां पर 100 से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं और देशभर में उनकी कंपनी के 15 आउटलेट हैं।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -