Friday, April 23, 2021
- Advertisement -

7 माह के हिरण को ले गए वन्य विभाग के कर्मचारी, रोते हुए परिवार के सदस्य बोले, बच्चे की तरह पाला था

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

New Delhi: इंसानों को कभी जीवों से भी बेहद लगाव हो जाता है। आपने कई बार देखा होगा कि जब किसी के घर में किसी जीव को दूसरी जगह भेजा जाता है तो उसके चाहने वाले कैसे रोने लगते हैं। ठीक ऐसा ही नजारा तब देखने को मिला जब वन्य विभाग के कर्मचारी एक हिरण को अपने साथ लेकर गए। दरअसल, पाकिस्तान से सटे राजस्थान के जिला जैसलमेर में एक मुस्लिम परिवार ने वन्य विभाग को सूचना दी थी कि वह यहां से हिरण लेकर जाए। सूचना मिलने पर वन्य विभाग के कर्मचारी पहुंचे और हिरण लेकर चले गए। इस दौरान मुस्लिम परिवार को रोना शुरु हो गया। परिवार का एक सदस्य बोला कि इसे कभी जीव नहीं समझा था, इसे तो अपने बच्चे की तरह पाला था।

हिरण को परिवार का सदस्य बना लिया था
जैसलमेर जिले के केरालिया गांव के रहने वाले नूरे खान की पत्नी माया ने अपने बच्चों की तरह की हिरण का ख्याल रखा था। सात माह तक माया हिरण को गाय का दूध पिलाती थी। खास बात यह है कि वह अपने बच्चों के साथ ही हिरण को खाना खिलाती थी।

हिरण का नाम रखा था डॉन
माया ने इस हिरण का नाम डॉन रखा था। माया बताती है कि जब वह पांच दिन का होगा वह उनके पास आया था। वह बताती हैं कि उन्होंने ही हिरण का नाम डॉन रखा था, जब वह उसे पुकारती थी तो वह उनके पास पहुंच जाता था।

परिवार के पास ऐसा पहुंचा था हिरण
गांव के लोग बताते हैं कि एक मादा हिरण ने सात माह पहले एक बच्चे को जन्म दिया था. इस दौरान कुछ कुत्तों ने मादा हिरण पर हमला कर दिया और उसकी जान ले ली। इसी बीच माया ने देखा था कि एक मरे हुए हिरण के पास उसका बच्चा बैठा है। बस उसे वह अपने घर लेकर आई, और ख्याल रखने लगी।

जब स्वस्थ हुआ तो सौंप दिया वन्य विभाग को
माया बताती हैं कि जब डॉन(हिरण) स्वस्थ हो गया तो स्थानीय सरपंचों के द्वारा वन्यविभाग को सूचना दी गई। जिसके बाद डॉन हमेशा के लिए चला गया।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -