Saturday, November 27, 2021
- Advertisement -

कछुए को भूखा देख पसीजा गोरिल्ला का दिल, अपने हिस्से का खिलाया सेब

Must Read

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...

आपकी लाइफ बदल देगा मिट्टी का ये ए. सी. , बिना बिजली और बिना खर्च के देता है ठंडक

नई दिल्ली : जिस तरह से गर्मी बढ़ती जा रही जा रही है एयर कंडीशनर का प्रयोग भी बढ़ता...

अंग्रेजी हुकूमत को चारों खाने चित्त कर दिया था बोरोलीन ने, आज भी बाजार में है इस क्रीम का दबदबा

बोरोलीन बाज़ार में एक जानी मानी एंटीसेप्टिक क्रीम की ब्रांड है। आज इतने वर्षों बाद भी बोरोलीन का बाज़ार...

New Delhi: इंसानों के भीतर भले ही इंसानियत नहीं बची हो। इंसान भले ही लोगों की मदद स्वार्थ के लिए करता हो, लेकिन जब बात किसी जानवर की आती है तो वह बिना किसी स्वार्थ के अपने साथी की मदद करता है। इस संबंध में आपको कई वीडियो सोशल मीडिया पर देखने को मिल जाएंगे। जिसमें एक जानवर दूसरे जानवर की मदद कर रहा हो। इसी कड़ी में एक वीडियो इंटरनेट पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में दो बड़े आकार के गोरिल्ला (बंदर) दिखाई दे रहे हैं, वह सेब खा रहा है, और गोरिल्ला के ठीक सामने एक कछुआ भी है। इसके बाद देखिए क्या होता है, पहले आप भी यह वीडियो देखिए।

अपने हिस्से का सेब खिलाता है गोरिल्ला

वीडियो में आपने देखा कि दो गोरिल्ला कितने मजे में लाल रंग का सेब खा रहे हैं, और गोरिल्ला के ठीक सामने एक भूखा कछुआ बैठा है, और गोरिल्ला को निहार रहा है। कछुआ को देख ऐसा प्रतीत हो रहा है कि जैसे मानों कह रहा हो कि गोरिल्ला भैय्या एक बाइट हमें भी खिलाओं।

the feel good page

बस क्या कछुआ को अपने सामने देख, गोरिल्ला को भी दया आ जाती है और अपने हिस्से का सेब कछुआ को खिला देता है। दोनों जानवर के बीच फल का बंटवारा देख सोशल मीडिया यूजर काफी खुश हुए हैं। एक यूजर लिखते हैं कि हम इंसानों में न जाने क्यों ऐसी ममता देखने को नहीं मिलती।

the feel good page

आईपीएस ने लिखा मिल बांट कर खाना
आईपीएस राकेविज ने वीडियो को रिट्विट करते हुए लिखा कि मिल बांट कर खाना। बताते चले कि इस वीडियो पर कई यूजर ने दिल छू लेने वाले कमेंट लिखे हैं। एक यूजर ने लिखा कि जानवर तो जानवर ही होते हैं। इनके अंदर ममता कूट-कूट कर भरी होती है। नहीं तो गोरिल्ला सेब के हिस्से को अपने दूसरे साथी गोरिल्ला को खिला सकता था. लेकिन उसने कछुआ को खिलाया। एक यूजर ने लिखा, ऐसे वीडियो को देखकर सकारत्मक ऊर्जा मिलती है।

- Advertisement -

Latest News

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -