Saturday, November 27, 2021
- Advertisement -

प्रिंयका, दिलजीत पर कंगना का वार, कहा किसानों का इस्तेमाल कर देशद्रोहियों कि गुड़ बुक्स में आने चाहते हैं

Must Read

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...

आपकी लाइफ बदल देगा मिट्टी का ये ए. सी. , बिना बिजली और बिना खर्च के देता है ठंडक

नई दिल्ली : जिस तरह से गर्मी बढ़ती जा रही जा रही है एयर कंडीशनर का प्रयोग भी बढ़ता...

अंग्रेजी हुकूमत को चारों खाने चित्त कर दिया था बोरोलीन ने, आज भी बाजार में है इस क्रीम का दबदबा

बोरोलीन बाज़ार में एक जानी मानी एंटीसेप्टिक क्रीम की ब्रांड है। आज इतने वर्षों बाद भी बोरोलीन का बाज़ार...

New Delhi:किसान नए कृषि कानून को लेकर धरने पर हैं, दो सप्ताह से अधिक समय होने के बाद भी किसान वापस जाने से मना कर रहे हैं। जबकि सरकार व किसान नेताओं की बातचीत हर बार फेल ही रही है। किसान कहते हैं कि उन्हें बिल में संशोधन नहीं बल्कि कानून को वापस करवाना है और जब तक सरकार कानून को वापस नहीं लेती है, वह घर नही जाएंगे। बताते चले कि किसान आंंदोलन को पंजाब के कई कलाकारों ने अपना समर्थन दिया है। जिसमें सबसे पहले सुपरस्टार दिलजीत दोसांझ का नाम आता है। जो पहले दिन से सोशल मीडिया के जरिए किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे हैं। इस कड़ी में बॉक्सर विजेंद्र सिंह, सहित कई नामी चेहरे शामिल हैं

 अब नया नाम प्रिंयका चौपड़ा का भी शामिल हुआ है। बॉलीवुड की जंगली बिल्ली ने दिलजीत दोसांझ के ट्विीट पर रिट्वीट करते हुए लिखा कि किसान अन्न पैदा करने वाले सैनिक हैं। उनकी आशाओं पर खरा होने की जरूरत है। लोकतंत्र में हमे यह सुनिश्चित करना होगा कि किसानों की समस्या जल्द ही सुलझा ली जाएगी।

बताते चले कि इसके बाद बॉलीवुड की क्वीन कही जाने वाली कंगना रनौत ने प्रिंयका चौपड़ा व दिलजीत दोसांझ पर ट्विीट के जरिए तंज कसा है।

अगर सच में किसानों की चिंता है, अगर सच में अपनी माताओं का आदर सम्मान करते हो तो सुन तो लो आख़िर फ़ार्मर्ज़ बिल है क्या! या सिर्फ़ अपनी माताओं, बहनों और किसानों का इस्तेमाल करके देशद्रोहियों कि गुड बुक्स में आना चाहते हो? वाह रे दुनिया वाह कंगना ने लिखा कि अगर सच में किसानों की चिंता है, अगर सच में अपनी माताओं का आदर सम्मान करते हो तो सुन तो लो, आखिर फार्मज बिल है क्या, या सिर्फ अपनी माताओं, बहनों और किसानों का इस्तेमाल करके देशद्रोहियों कि गुड़ बुक्स में आना चाहते हो। बताते चले कि कंगना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्विीट पर रिट्वीट करते हुए यह बाते कहीं है। पीएम मोदी ने अपने ट्विीट में लिखा था कि मंत्रिमंडल के मेरे दो सहयोगी नरेंद्र सिंह तौमर व पीयूष गोयल ने नए कृषि कानूनों और किसान की मांगों को लेकर विस्तार से बात की। इसे जरूर सुने।
गौर करने वाली बात यह है कि किसान आंदोलन के दौरान यह पहली बार नहीं जब कंगना ने किसान आंदोलन को समर्थन दे रहे कलाकारों पर तंस न कसा हो। मालूम हो कि कंगना ने पहले दिलजीत व विजेंद्र सिंह पर तंज कसा था। विजेंद्र व कंगना तो सोशल मीडिया पर ही एक दूसरे से लडऩे लगे थे।

- Advertisement -

Latest News

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -