Sunday, May 9, 2021
- Advertisement -

ग्रामीण महिलाओं को रोजगार दिलाने के लिए छोड़ दी अपनी मोटी सैलरी वाली नौकरी, बेच रहे हैं देसी उत्पाद

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

अपना और अपने परिवार का पेट तो सभी पालते है लेकिन दूसरों के पेट भरने के लिए काम करें तो वह है काबिले-ए-तारीफ़ विनय कोठारी ने ऐसा ही काबिले-ए-तारीफ़ काम किया है. ये 34 वर्षीय युवा हजारो महिलाओं को घर बैठे रोजगार उपलब्ध करा रहा है.

बंगलुरु में रहने वाले विनय कोठारी ने दूसरों को रोजगार देने के लिए अपनी अच्छी-खासी तनख्वाह वाली मार्केटिंग की नौकर छोड़ दी. 34 वर्ष की उम्र में इस युवा ने ‘गो देसी’ नाम से एक स्टार्टअप की शुरुआत की थी. ‘गो देसी’ जैसे कि नाम से पता चल रहा है कि देशी की तरफ चलें. इस युवा ने ग्रामीण महिलाओं द्वारा बनाए गए उत्पाद को शहरों के बाजा़र में पहुुंचाने के लिए इस स्टार्टअप की शुरुआत 2018 में की थी. महिलाओं द्वारा बनाए जा रहे पारंपारिक खाद्य पदार्थ और स्नैक्स की मार्किटिंग का बीड़ा उठाकर इन्होंने महिलाओं की ज़िदगी पूरी तरह बदल कर रख दिया है. विनय को आज सबसे सफल उद्यमी के तौर पर जाना जाता है.

कैसे आया था बिजनेस का आइडिया

विनय बताते हैं कि साल 2017 में जब मैं ट्रैकिंग पर गया थ तो वहां मुझे एक चाय की दुकान पर कटहल की बनी स्नैक खाने को मिले जिसका स्वाद मुझे बेहद अच्छा लगा. कटहल से बना ये स्नैक्स एक एनजीओ ग्रामीण महिलाओं से तैयार करवाती है. विनय ने कहा कि उसी दिन मैंने सोच लिया कि मुझे ऐसे स्नैक्स को शहर के मार्केट तक पहुंचाना है. यही से आया मुझे ‘गो देसी’ बनाने का आइडिया. अगले ही दिन मैं इन महिलाओं के पास पहुंचा और इनसे 30 किलो पारंपरिक खाद्य प्रदार्थ खरीदकर बेंगलुरु के फ्ली मार्किट में स्टॉल लगाया. इस स्टाॅल से एक ही दिन में सारे उत्पाद बिक गए. इन उत्पादों की मांग को देखते हुए मैंने अपना बिजनेस शुरू किया.

महिलाओं को मिल रहा है रोजगार

विनय का गो देसी एक पैकेज्ड फूड ब्रांड है, इसके जरिए वह गांव के स्वाद को शहरों में पहुंचा रहे हैं. विनय और उसकी टीम ने ‘गो देसी’ से जुड़ने के लिए ग्रामीण महिलाओं से संपर्क किया. इन महिलाओं से विनय ने कहा कि आप अपने उत्पादों में बिल्कुल देसी टच रखना. इस ब्रैंड के जरिए लोगों को बिल्कुल देसी चीजों का स्वाद मिलता है. इमली पाॅप्स, नींबू चाट, सूखे केले और कटहल बार का स्वाद ये स्टार्टअप लोगों को देता है. लोगों को देसी स्वाद काफी पसंद आ रहा है. लोगों के जीभ को अब इस स्टार्टअप की चीजों की आदत सी लग गई है. इमली पाॅप के तो लेाग दीवाने हो गए हैं. विनय का कहना है कि अभी इमली से बनें कैंडी की डिमांड इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि 20 लाख से ज्यादा कैंडी का आॅर्डर मिल गया है. केवल कैंडी बनाने के लिए 6 छोटी इकाईयां लगानी पड़ी है. इस काम से जुड़ी महिलाओं का कहना है कि इस व्यवसाय से जुड़कर हम एक सम्मानजक जिं़दगी गुजार रहे हैं. महिलाओं को पैसे सीधे उनके खाते में पहुंचा दिया जाता है.

source – The better india

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -