Monday, April 19, 2021
- Advertisement -

मगनभाई के बगान में डेढ़ किलो का निकलता है एक अमरूद, सालाना होती है 10 लाख की कमाई

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

New Delhi: अगर सही तरीके से खेती की जाए तो फसल भी अच्छी ही होती है, और फिर इस पर मुनाफा भी होता है। जी हां आपने ठीक सुना। आज हम बात करेंगे गुजरात के एक किसान की जिनके बगान में एक अमरूद डेढ़-डेढ़ किलो का निकलता है और इसी अमरूद को बेचकर वह सालाना 10 लाख रुपये कमाते हैं। यकीन नहीं होता तो चलिए जानते हैं इनके बारे में है।

गुजरात के रहने वाले हैं
अमरूद की खेती से लाखों रुपये कमाने वाले मगनभाई कमरिया गुजरात के कंगकारा तहसील के जबलपुर गांव के रहने वाले हैं। उन्होंने पारंपरिक खेती की बजाय अमरूद की खेती की है।

26 बीघा में होती है अमरूद की खेती
मगनभाई ने बताया कि वह 26 बीघा में अमरूद की खेती करते हैं। वह बताते हैं कि उन्होंने अमरूद की खेती के लिए आधुनिक तरीका अपनाया है। जिसकी वजह से बगान में एक से डेढ़ किलों का एक अमरूद निकलता है। वह बताते हैं कि उनके अमरूद की बाजार में बहुत डिमांड है। खास बात यह है कि वह माल बेचने के लिए बाहर नहीं जाते हैं, बल्कि बड़े बड़े विक्रेता खुद मगनभाई के दरवाजे पर आते हैं।
वह बताते हैं कि कपास,. मूंगफली की खेती में मुनाफा नहीं था, अपितु खर्च ज्यादा हो गया था। इसी वजह से अमरूद की खेती की।

कोरोना के चलते 80 रुपये किलो बिका अमरूद
मगनभाई बताते हैं कि उनके अमरूद की डिमांड रहती है। वह बताते हैं कि उनके अमरूद यूं तो पिछले साल 100 रुपये किलो के भाव में बिके हैं। लेकिन इस साल ज्यादा मुनाफा नहीं हुआ। कोराना के चलते 80 रुपये किलो के भाव बिके हैं।

अमरूद की खेती में पत्नी भी करती है सहयोग
मगनभाई बताते हैं कि अमरूद की खेती में उनकी पत्नी भी सहयोग करती है। वह सभी पेड़ों की बराबर निगरानी करती हैं कि जिससे किसी भी तरह से कोई कीड़ा न लग सके। क्योंकि कीड़ लगेगा तो फसल खराब होगी। इसके लिए वह समय समय पर खाद डालती रहती है।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -