Tuesday, May 18, 2021
- Advertisement -

पायलट से शैफ बनें समीर के हाथ का कोरमा खाने दिल्ली से देहरादून आती है बाॅलीवुड अभिनेत्रियां, लोगों को पसंद आ रहा है खाना

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

लाकडाउन में कई लोग आत्मनिर्भर बनने के लिए अपने काम खुद से ही करने लगे हैं,. इस लाकडाउन के दौरान लोगों ने सबसे ज्यादा काम खाना बनाने का किया है. किसी ने सही ही कहा है कि किसी के दिल मेें बसने का रास्ता उसके पेट से होकर ही गुजरता है. पेशे से पायलट समीर शेवक अब शैफ बनकर लोगों को अपने हाथ से बनें बिरायनी खिला रहे हैं. पहाड़ों से ढ़के हुए देहरादून में शेवक अपने घर पर बिरयानी बनाते हैं. उनकी हाथ की बिरयानी खाने के लिए स्वरा भास्कर और मृणाल ठाकुर जैसी अभिनेत्री उनके घर पर जा चुकी हैं.

शेवक रविवार को 5 बजे सुबह उठकर 60 कबाब 20 किलो बिरयानी और 5 किलो बटर चिकन तैयार कर लेते हैं. उनका घर देहरादून के किनारे पर स्थित है. उन्हें सिर्फ वीकंएड पर 20 आॅर्डर मिल जाते हैं जिससे उन्हें 20,000 की आमदनी हो जाती है. शेवक कहते है कि मैं कभी शैफ नहीं बनना चाहता था. मेरा बचपन आगरा के हवाई अड्डे के पास बिता है, मैं प्लेन को देखकर बड़ा हुआ हूं. मेरी दादाजी वायुसेना में कार्यरत थे उन्होंने मुझ पर पायलट बनने का दबाव बनाया था, उनके कहने पर मैंने 12 वीं पास करते ही पायलट का प्रशिक्षण लेना शुरू कर दिया था.

Repersantive(pixbay)

30 वर्षीय समीर ने कहा कि मैंने कनाडा में पायलट ट्रेनिंग के दौरान खाना बनाने का काम भी किया था. एयरलाइन कंपनियों की स्थिति भारत में ठीक नहीं हैं. कई अनुभवी पायलटों को कंपनियां निकाल रही हैं. ऐसे में मुझे नौकरी मिलने का डर सता रहा था. बड़े ब्रेक के इंतजार में मैंने कई डिजिटल कंपनियों के लिए काम किया है. कोरोना वायरस के चलते मैं कनाडा अपने पायलट ट्रेनिंग के लिए नहीं जा सका. इसलिए अब मैं शैफ बन गया हूं. मुझे लखनवी खाना काफी प्रभावित करता है.

repersantive image (pixbay)

शुरुआत में चिकन बिरयानी और कोरमा बनाकर मैंने अपने परिवार और दोस्तों को खिलाया था. उन लोगों को मेरा ये खाना बेहद पसंद आया जिसके बाद मेरे अंदर आत्मविश्वास आ गया कि मैं अच्छा खाना बना सकता हूं. सितंबर 2020 में मैंने अपना साप्ताहिक फूड बिजनेस शुरू कर दिया. स्वरा भास्कर ने उनके खाने की तारीफ़ करते हुए ट्विटर पर एक ट्विट भी किया था जिसके कैप्शन में लिखा था, ’मंसूरी में अगर आप चिकन कोरमा या बिरयानी खाना चाहते हैं तो इस शैफ से संपर्क करें.’ उनके खाने के आॅर्डर दूसरे राज्यों से भी आ रहे हैं.

 

 

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -