Tuesday, May 11, 2021
- Advertisement -

परिवार छोड़ 11वीं का छात्र पहुंचा किसान आंदोलन में, मुफ्त में धो रहा है प्रदर्शनकारियों के कपड़े

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

New Delhi: सिंधु बॉर्डर पर, टिकरी बॉर्डर, गाजीपुर बॉर्डर सहित अन्य बॉर्डरों पर किसानों को धरना प्रदर्शन जारी है। नए कृषि कानून को लेकर गुरुवार को किसानों के धरना प्रदर्शन का 29वां दिन रहा। जहां किसानों ने रोजाना की तरह अपनी पुरानी मांग दोहराई है। किसानों ने कहा कि सरकार वार्ता के लिए नहीं, बल्कि, कानून में संशोधन के लिए बुलाना चाहती है। ऐसे में हमारी मांग है कि वार्ता के लिए न्योता भी आता है तो हम सीधे कृषि कानून को वापस लेने की मांग करेंगे। इसी बीच किसानों को देशभर से समर्थन मिल रहा है। बताते चले कि कई किसान संगठनों द्वारा गुरुवार को किसान पंचायत का आयोजन भी होना है। जिसमें देशभर के किसान हिस्सा लेंगे। इसी बीच किसानों को अपना समर्थन देने के लिए 11वीं क्लास का छात्र सिंधु बॉर्डर पहुंच गया है।

परिवार छोड़़ पहुंचा किसान आंदोलन में


16 साल का छात्र जिसका नाम परमपाल है,वह परिवार को छोड़ किसान आंदोलन में पहुंच गया है। 11वीं क्लास का यह छात्र यहां पर फ्री में किसानों के कपड़े धो रहा है। छात्र कहता है कि वह किसी के कहने पर यहां नहीं आया है,. बल्कि अपनी इच्छा से आया है।

समर्थन पाकर किसान गदगद
किसान आंदोलन में दूसरे लोगों की तरफ से मिल रहे सहयोग से किसान गदगद हैं। किसानों का कहना है कि हमें खुशी है कि लोग हमारा समर्थन करने के लिए आ रहे हैं। बताते चले कि किसानों को समर्थन देने के लिए ज्यादतर लोग पंजाब से चलकर आ रहे हैं।

यह सुविधा भी मिल रही किसानों को
सिंधु बॉर्डर पर किसान आंदोलन का 29 दिन पूरे हो चुके हैं। जहां किसान अपनी मांग को लेकर डटे हुए हैं। वहीं उनके रहने व खाने के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। खासतौर पर नहाने के लिए गीजर की व्यवस्था, खाने के लिए लजीज व्यंजन, बाल कटवाने के लिए सैलून की भी व्यवस्था है।

केंद्र सरकार वार्ता के लिए तैयार
केंद्र सरकार के कृषि मंत्री की ओर से बयान आया है कि वह किसानों के साथ संपर्क में हैं। जल्द ही वार्ता के लिए किसानों को न्योता भेजा जाएगा। उन्होंने उम्मीद जताई है कि जल्द मामला सुलझा लिया जाएगा।

आपके लिए यह खबर लिखी है स्वाराजंली गौतम ने.

 

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -