Friday, November 26, 2021
- Advertisement -

कार में परिवार के साथ सफर करते हुए पटना पहुंच गया भारी भरकम और खतरनाक अजगर, पता चलते ही उड़ गए होश

Must Read

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...

आपकी लाइफ बदल देगा मिट्टी का ये ए. सी. , बिना बिजली और बिना खर्च के देता है ठंडक

नई दिल्ली : जिस तरह से गर्मी बढ़ती जा रही जा रही है एयर कंडीशनर का प्रयोग भी बढ़ता...

अंग्रेजी हुकूमत को चारों खाने चित्त कर दिया था बोरोलीन ने, आज भी बाजार में है इस क्रीम का दबदबा

बोरोलीन बाज़ार में एक जानी मानी एंटीसेप्टिक क्रीम की ब्रांड है। आज इतने वर्षों बाद भी बोरोलीन का बाज़ार...
Sanjay Kapoorhttps://citymailnews.com
Sanjay kapoor is a chief editor of citymail media group

आपको यदि ये पता चले कि आपकी कार में एक लंबा-चौड़ा व बड़ा अजगर भी सफर कर रहा है, तो आपकी पहली प्रतिक्रिया क्या होगी। सच में जब आपको इसके बारे में पता चलेगा तो आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे। जी-हां यह खबर बिल्कुल सत्य पर आधारित है। एक शख्स के साथ ऐसा ही हुआ, जब उसे इसके बारे में पूरी जानकारी हुई तो वह अंदर तक हिल गया।

कार में 350 किलोमीटर का किया सफर

लेकिन यह बिल्कुल ठीक है। बाल्मीकि नगर से 350 किलोमीटर का सफर करके एक भारी भरकम अजगर कार में पटना पहुंच गया। जब ये कार सर्विस के लिए मैकेनिक के पास पहुंची तो उसका बोनट खोलते ही हडक़ंप मच गया। दरअसल बगहा के बाल्मीकि टाईगर रिजर्व वन प्रमंडल-2 के साथ लगते रिहायशी इलाके में अक्सर वन्य जीव इसी प्रकार से पहुंच जाते हैं।

रिटायर्ड टीचर की कार में छुपा था अजगर

इस रिहायशी इलाके में रहने वाले रिटायर्ड टीचर मोहन प्रसाद श्रीवास्तव अपनी कार से पटना गए थे। उन्हें बिल्कुल भी भनक नहीं थी कि उनकी कार के इंजन में एक भारी भरकम और बड़ा भयानक सा अजगर भी उनके साथ ही सफर कर रहा है। पटना पहुंचने के बाद मास्टर जी ने कार को सर्विस के लिए भेज दिया। मैकेनिक ने जैसे ही कार का बोनट खोला तो उसके होश उड़ गए। कार के भीतर एक बड़ा सा अजगर पहले से ही विराजमान था।

खबर फैलते ही मचा हडकंप

अजगर की खबर फैलते ही इलाके में हडकंप मच गया। तभी सूझबूझ का परिचय देते हुए मैकेनिक ने वन विभाग को इसकी जानकारी दी। वन विभाग के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर अजगर को सफलता पूर्वक काबू कर लिया। मास्टर जी को जब इस बात की जानकारी मिली तो वह भी बुरी तरह से घबरा गए। उन्होंने बताया कि उनका घर टाईगर रिजर्व फोर्स के साथ लगते रिहायशी इलाके में है। उनकी कार गैराज में खड़ी रहती थी, तभी उनकी कार में यह अजगर पहुंच गया होगा और उसने वहां अपना घर बना लिया।

- Advertisement -

Latest News

देश की पहली एमबीए पास सरपंच है छवि, अपनी मेहनत से बदल दी गांव की सूरत

नई दिल्ली : हमने किताबो, किस्से कहानियों में ऐसी चीजे जरूर पढ़ी होगी जिसमे युवा ने कॉरपोरेट नौकरी (corporate...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -