Thursday, January 21, 2021
- Advertisement -

लाखों की कोचिंग नहीं, सिर्फ सेल्फ स्टडी से ऐश्वर्या ने पास की UPSC परीक्षा

Must Read

400 कैंसर योद्धा बच्चों की पढ़ाई को जारी रखने के लिए दिए गए टैबलेट, CankidsKidscan ने की सराहनीय पहल

वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते सभी शिक्षण संस्था अथवा स्कूल बंद हैं| स्कूल के साथ-साथ कैनशाला भी कोरोना...

दुनिया की सबसे ऊंची चोटी से जमा किए गए कचरे को कला में बदलेगा नेपाल, माउंट एवरेस्ट के कचरे से बनेगी आर्ट गैलरी

हाल ही में माउंट एवरेस्ट अपनी ऊंचाई बढ़ने को लेकर काफी चर्चाओं में रहा| लेकिन अब एक बार फिर...

8 बार स्वर्ण पदक हासिल कर रोशन किया माता-पिता का नाम, आज करती हैं देश के क़ानूनों की रखवाली

वर्तमान समय में लड़कियां किसी से कम नहीं हैं, इस वाक्य को महिलाओं ने अपने कारनामों से साबित कर...

New Delhi: यूपीएससी परीक्षा में हिस्सा लेने के लिए हर साल लाखों छात्र भाग लेते हैं। लेकिन प्रारंभिक परीक्षा के बाद लाखों की संख्या घटकर महज हजारों में रह जाती है। इसके बाद होने वाले मेन्स परीक्षा के बाद तो संख्या सिर्फ कुछ ही रह जाती है। इसके बाद आखिरी राउंड के बाद जो छात्र निकलते हैं वह इस परीक्षा को पास करने में सफल होते हैं। कहने के लिए बड़ा आसान होता है कि यूपीएससी परीक्षा पास करने के लिए सिर्फ तीन राउंड ही पार करने पड़ते हैं। लेकिन कभी कभी यही तीन राउंड पार करने में काफी साल लग जाते हैं। वहीं इस परीक्षा को पास करने के लिए छात्र दिल्ली आकर महंगे कोचिंग संस्थान में पढ़ते हैं। लेकिन आज हम आपके लिए एक ऐसी स्टोरी लेकर आए हैं, जिसे पढऩे के बाद आप भी कहेंगे कि बिना कोचिंग के भी सफलता हासिल की जा सकती है। यह स्टोरी है भोपाल की ऐश्वर्या शर्मा की। जिन्होंने यूपीएससी परीक्षा पास करने के दौरान सिर्फ सेल्फ स्टडी की। चलिए जानते हैं ऐश्वर्या की सफलता के बारे में

यूपीएससी से पहले इंजीनियरिंग पढ़ चुकी हैं ऐश्वर्या
यूपीएससी पास करने वाली ऐश्वर्या भोपाल की रहने वाली हैं। उन्होंने यूपीएससी से पहले इंजीनियरिंग की डिग्री ली थी। हालांकि उन्हें इंजीनियरिंग के दौरान ही यूपीएससी परीक्षा देने का मन किया था।

पहले प्रयास में फेल
यूपीएससी परीक्षा पास करने वाली ऐश्वर्या ने जब पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी तो वह सफल नहीं हो पाई। हालांकि वह पहली बार में मेन्स तक पहुंची। इसके आगे वह नहीं जा सकी। परंतु ऐश्वर्या ने हार नहीं मानी और सेल्फ स्टडी करना शुरु कर दिया।

पूरी तैयारी के साथ दी परीक्षा
एक बार फेल होने के बाद ऐश्वर्या ने अपनी पूरी मेहनत के साथ दोबारा से यूपीएससी की परीक्षा दी। उन्होंने तीन राउंड को पार किया और 168वीं रैंक लाकर वह आईपीएस के लिए चुनी गई।

क्या कहती हैं ऐश्वर्या
ऐश्वर्या कहती हैं कि प्री की तैयारी के दौरान किताबें सीमित होनी चाहिए। जिसे बार-बार पढऩे के साथ रिवीजन किया जा सके। ज्यादा किताब रखने से ज्यादा समय बर्बाद होता है। वह बताती हैं कि प्री के परीक्षा के बाद खाली बैठने से अच्छा है कि आप मेन्स की तैयारी करे। जिससे मेन्स लिखने में आसानी होती है। वहीं साक्षात्कार राउंड में नर्वस न हो, बल्कि अगर किसी सवाल का उत्तर न आए तो साफतौर पर कह दे कि इसका जवाब मेरे पास नहीं है।

- Advertisement -

Latest News

400 कैंसर योद्धा बच्चों की पढ़ाई को जारी रखने के लिए दिए गए टैबलेट, CankidsKidscan ने की सराहनीय पहल

वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते सभी शिक्षण संस्था अथवा स्कूल बंद हैं| स्कूल के साथ-साथ कैनशाला भी कोरोना...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -