Wednesday, April 21, 2021
- Advertisement -

वैज्ञानिक के रुप में अंकित का हुआ चयन, पिता के देहांत के बाद मामा ने उठाया था पढ़ाई का जिम्मा

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

New Delhi: सच्ची मेहनत व सच्ची लगन से इंसान हमेशा सफलता पाता है। आज बात ऐसे ही एक युवा की जिसने अपनी सच्ची मेहनत के बल पर जो मुकाम हासिल किया है, उसके चर्चे चारों तरफ हो रहे हैं। जी हां आपने ठीक सुना। बिहार के सासाराम के तकिया बाजार निवासी 21 साल का अंकित गुप्ता जिसका चयन भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान परिषद में अंतरिक्ष वैज्ञानिक के तौर पर हुआ है। हालांकि अंकित के वैज्ञानिक बनने का सफर इतना आसान नहीं था। जब वह चौथी क्लास में थे तब उनके पिता का स्वर्गवास हो गया था। पूरा परिवार गमगीन था। दुख की इस घड़ी में अंकिता के मामा ने हाथ थामा, चलिए जानते अंकित के संघर्ष के बारे में

जब पिता का देहांत हुआ
अंकित अभी महज 10 साल के ही थे, और इस दौरान उनके पिता का देहांत हो गया। इस दौरान अंकित को एक सहारे की जरूरत थी। अंकित के लिए यह सहारा बने उनके मामा और उनका ननिहाल।

ननिहाल से की 12वीं तक की पढ़ाई
अंकित के मामा उसे अपने साथ गोरखपुर ले आए। जहां उन्होंने 12वीं तक की पढ़ाई गोरखपुर से ही की। इसके बाद अंकित ने एक साल की तैयारी में जेईई मेंस में चयन हुआ

ऐसे हुआ इसरो में चयन
जेईई मेंस की परीक्षा में परीक्षा में सफल होने के बाद अंकित का नामांकन इंडियन इंस्ट्टियूट ऑफ स्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी त्रिवेंद्रम में हो गया। यहां पर शिक्षा लेने के बाद अंकित का चयन इसरो के विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र में वैज्ञानिक के तौर पर हुआ।

परिवार में खुशी का माहौल
अंकित की इस सफलता पर घर के लोग काफी खुश हैं। बताया जा रहा है कि अंकित तीन भाई है, वह दूसरे नंबर पर आते हैं। वैज्ञानिक के रुप में चयन होने से उनके दोनों भाई भी बेहद खुश हैं। बताया जा रहा है कि 24 दिसंबर 2020 को इसरों की ओर से नियुक्ति प्रस्ताव मिला था।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -