Saturday, February 27, 2021
- Advertisement -

12 वीं की परीक्षा में देश भर में टॉप करने वाली दिव्यांगी त्रिपाठी गणतंत्र दिवस पर पीएम मोदी के साथ देखेगी परेड

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...
Sanjay Kapoorhttps://citymailnews.com
Sanjay kapoor is a chief editor of citymail media group

गोरखपुर की इस बच्ची ने पहले देश में अपनी परीक्षा के दम पर इतिहास रचा था। एक बार फिर से यह बच्ची एक और इतिहास बनाने जा रही है। इस बच्ची का नाम है दिव्यांगी त्रिपाठी, जिन्होंने पिछले साल 12 वीं की परीक्षा में 99.6 प्रतिशत नंबर लाकर पूरे देश में अपने स्कूल व परिवार का नाम रोशन किया था। दिव्यांगी त्रिपाठी अपने परिवार के साथ उत्तर प्रदेश गोरखपुर रहती हैं।

TOI

गणतंत्र दिवस इस बार उत्साहपूर्वक नहीं मनाया जा सकेगा

इस परीक्षा को रिकार्ड मतों से पास करने के सम्मान स्वरूप दिव्यांगी को इस बार की गणतंत्र दिवस परेड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठने का सुनहरा अवसर मिलेगा। भारत इस वर्ष 26 जनवरी को अपना 72 वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है। हालांकि कोरोना की वजह से यह गणतंत्र दिवस इस बार उत्साहपूर्वक नहीं मनाया जा सकेगा। इस पर्व में पहले यूनाईट किंगडम के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को आमंत्रण दिया गया था ,मगर उन्होंने अपना भारत दौरा रदद कर दिया है।

पीएम बॉक्स में बैठना होगा अनूठा

इसके बावजूद देश में गणतंत्र दिवस समारोह का आयोजन तो किया ही जाएगा। जिसमें दिव्यांगी त्रिपाठी का प्रधानमंत्री बॉक्स में बैठना अपने आप में उनके परिवार व प्रदेश के लिए गौरव की बात होगी। इसे लेकर दिव्यांगी व उनका परिवार बेहद उत्साह और खुशी में है। उन्हें ये एक सपने जैसा लग रहा है। दिव्यांगी के पिता प्रोफे सर उमेशनाथ त्रिपाठी एवं उनकी मां ने कहा कि यह पल उनके लिए बेहद सम्मानजनक है। 13 जनवरी को इसके लिए उन्हें निमंत्रण पत्र मिल गया है।

मोदी को मानती हूं अपना आदर्श

दूसरी ओर दिव्यांगी का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मैं अपने आदर्श नेता के तौर पर देखती आई हूं। उनके साथ बैठकर परेड देखना मेरे लिए गौरव के क्षण होंगे। मैं अपने आप में बहुत भागयशाली हूं, जिसे यह दिन देखना नसीब हो रहा है। वह कहती है कि उनका उद्देश्य डाक्टर बनकर अपने देश की सेवा करना है।

डाक्टर बनकर करेंगी देशसेवा

डाक्टर बनने के लिए दिव्यांगी नीट परीक्षा की तैयारी में जुटी हुई है। उनका कहना है कि मुझे उम्मीद है कि मेरा डाक्टर बनकर देश सेवा करने का जज्बा जरूर पूरा होगा। बता दें कि इस बार कोरोना महामारी की वजह से इस समारोह को सीमित किया जा रहा है। पहले गणतंत्र दिवस के अवसर पर लोक कलाकार व मेघावी बच्चों की संख्या 600 तक पहुंच जाती थी, जोकि अब घटाकर 400 कर दी गई है।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -