Monday, January 25, 2021
- Advertisement -

शुतुरमुर्ग के साथ दुबई के प्रिंस लगा रहे थे रेस, वीडियो वायरल

Must Read

किसी मसीहा से कम नहीं हैं दिव्यांग राधेश्याम, मगर हौंसला ऐसा कि बड़े से बड़ा दानवीर भी उनके सामने है बौना

दिव्यांग शब्द कैसे पड़ा, शायद बहुत से लोगों को इसकी जानकारी नहीं होगी। आपको बताते हैं कि विकलांग शब्द...

सडक़ हादसे रोकने का जुनून, पति राघवेंद्र ने घर और पत्नी ने जेवर बेच दिए, 48000 लोगों को बांट चुके हैं मुफ्त हेलमेट

दोस्तों और रिश्तेदारों की मदद करने के किस्से तो आपने बहुत सुने होंगे। क्या कभी आपने यह सुना है...

इस महिला ने सोहराई और मधुबनी कला के माध्यम से बनाई खुद की पहचान, विदेशों में भी लहराया भारतीय कला का परचम

वर्तमान समय में देखा जाता है कि ज़्यादातर लोग पश्चिमी सभ्यता से आकर्षित हो रहे हैं जिसके कारण वह...

New Delhi: इन दिनों सोशल मीडिया पर कई ऐसी वीडियो देखने को मिल रही है जो किसी वन्यजीव से जुड़ी हुई है। हाल में ही एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इंस्टाग्राम पर पोस्ट इस वीडियो में बताया जा रहा है कि दुबई के क्राउन प्रिंस शेख हमदान बिन मोहम्मद बिन राशि अल मकल शुतुरमुर्ग के साथ रेस लगा रहे हैं। एक मिनट के इस वीडियो को अब तक लाखों लोगों ने देखा और शेयर भी कर रहे हैं। चलिए जानते हैं इस वीडियो के बारे में

वीडियो में कुछ लोग लगा रहे हैं साइकिल से रेस
वीडियो में देखने पर पता चलता है कि कुछ लोग साइकिल से रेस लगा रहे हैं वीडियो में जैसे जैसे साइकिल रेस आगे बढ़ती है। इसी बीच एक शुतुरमुर्ग भी दिखाई पड़ता है।

शुतुरमुर्ग दूसरी तरफ से आगे आ जाता है
वीडियो में एक वक्त ऐसा भी आता है कि जब शुतुरमुर्ग दूसरी तरफ से आते हुए एक दम से साइकिल चला रहे दुबई के प्रिंस से आगे निकल जाता है। जिसे देखकर दर्शक भी गदगद हो जाते हैं।

एक नहीं दो शुतुरमुर्ग आते हैं
वीडियो में यूं तो एक शुतुरमुर्ग ही दिखाई पड़ता है। लेकिन दूसरी तरफ से एक और शुतुरमुर्ग भी दौड़ता हुआ दिखाई पड़ता है। जिसे देखकर साइकिल रेस लगा रहे लोग भी काफी खुश दिखे।

जब प्रिंस ने कार को चिडिय़ा के लिए छोड़ दिया
अभी हाल के दिनों में दुबई के प्रिंस ने अपनी महंगी कार को एक चिडिय़ा के लिए छोड़ दिया था। बताया जाता है कि एक चिडिय़ा ने उनकी कार के अंदर घोंसला बनाया था। जिसे देखने के बाद प्रिंस ने फैसला किया था कि वह घोंसले को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे। जब तक चिडिय़ा इस कार में रहे उसे रहने दिया जाए। बताते चले कि सोशल मीडिया पर प्रिंस के इस काम की सराहना भी की गई थी।

 

- Advertisement -

Latest News

किसी मसीहा से कम नहीं हैं दिव्यांग राधेश्याम, मगर हौंसला ऐसा कि बड़े से बड़ा दानवीर भी उनके सामने है बौना

दिव्यांग शब्द कैसे पड़ा, शायद बहुत से लोगों को इसकी जानकारी नहीं होगी। आपको बताते हैं कि विकलांग शब्द...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!