Thursday, January 21, 2021
- Advertisement -

रेलवे ट्रैक पर पहले बचाई बुजुर्ग की जान, फिर मारा थप्पड़

Must Read

400 कैंसर योद्धा बच्चों की पढ़ाई को जारी रखने के लिए दिए गए टैबलेट, CankidsKidscan ने की सराहनीय पहल

वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते सभी शिक्षण संस्था अथवा स्कूल बंद हैं| स्कूल के साथ-साथ कैनशाला भी कोरोना...

दुनिया की सबसे ऊंची चोटी से जमा किए गए कचरे को कला में बदलेगा नेपाल, माउंट एवरेस्ट के कचरे से बनेगी आर्ट गैलरी

हाल ही में माउंट एवरेस्ट अपनी ऊंचाई बढ़ने को लेकर काफी चर्चाओं में रहा| लेकिन अब एक बार फिर...

8 बार स्वर्ण पदक हासिल कर रोशन किया माता-पिता का नाम, आज करती हैं देश के क़ानूनों की रखवाली

वर्तमान समय में लड़कियां किसी से कम नहीं हैं, इस वाक्य को महिलाओं ने अपने कारनामों से साबित कर...

New Delhi: इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें एक बुजुर्ग रेलवे ट्रैक पर कूद जाता है, और इसी बीच तेज रफ्तार में एक ट्रेन उसके नजदीक आ जाती है। फिर भी बुजुर्ग प्लेटफॉर्म पर जाने की बजाय ट्रैक पर ही रहता है। इसी बीच स्टेशन पर मौजूद आरपीएफ जवान की मुस्तैदी से बुजुर्ग को मौका पाते ही प्लेटफॉर्म पर खींच लिया जाता है। जिससे बुजुर्ग की जान बच जाती हैं। हालांकि इस वीडियो में एक चीज गलत हुई कि जिस जवान ने बुजुर्ग की जान बचाई उसे प्लेटफॉर्म पर लाने के बाद थप्पड़ भी रसीद कर दिया। जिस वजह से जहां एक तरफ जवान की तारीफ हो रही थी, वहीं अब जवान की आलोचना भी होने लगी है।

यहां का है मामला
प्राप्त जानकारी के अनुसार मुंबई के दहिसर रेलवे स्टेशन पर एक 60 साल का बुजुर्ग जूते के लिए रेलवे ट्रैक पर उतर जाता है। इसी बीच तेज रफ्तार से एक ट्रेन उसी ओर आने लगती हैं। लेकिन स्टेशन पर मौजूद जवान की वजह से उसकी जान बचा ली जाती है।

स्टेशन पर लगे सीसीटीवी में कैद हुई घटना
पहले जूते के लिए ट्रैक पर कूदना, फिर पैर में जूते पहनने के दौरान तेज रफ्तार में ट्रेन आना। फिर जवान का बुजुर्ग को बचाना।यह सारी घटना स्टेशन पर लगे सीसीटीवी में रिकॉर्ड हुआ है।

वीडियो हुआ वायरल
सोशल मीडिया पर मुंबई के दहिसर रेलवे स्टेशन की यह वाली घटना वायरल हो रही है। लोग इसे सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं। वहीं कुछ लोग आरपीएफ के जवान की तारीफ कर रहे हैं तो कुछ बुजुर्ग की आलोचना भी कर रहे हैं।

वीडियो पर इस तरह के आए कमेंट
इस वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए एक यूजर ने लिखा कि अंत में बुजुर्ग को थप्पड़ मारा गया है। वहीं दूसरे यूजर ने लिखा कि अच्छा किया थप्पड़ मारा। तीसरे यूजर ने लिखा कि जवान को बुजुर्ग के साथ इस तरह का व्यवहार नहीं करना चाहिए था।

- Advertisement -

Latest News

400 कैंसर योद्धा बच्चों की पढ़ाई को जारी रखने के लिए दिए गए टैबलेट, CankidsKidscan ने की सराहनीय पहल

वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते सभी शिक्षण संस्था अथवा स्कूल बंद हैं| स्कूल के साथ-साथ कैनशाला भी कोरोना...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -