Sunday, January 17, 2021
- Advertisement -

जिस ज़िले में पिता हैं कॉन्सटेबल उसी ज़िले में बेटे ने हासिल किया SP का पद, गौरवान्वित पिता ने SP बेटे को किया सलाम

Must Read

होने से पहले ही टूट गई रतन टाटा और एलन मस्क की पार्टनरशिप, टाटा मोटर्स ने ये खुलासा कर चौंका दिया

भारत में दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क की इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी भारत में आने से...

कैसे बना जाए IAS , क्या है UPSC की तैयारी के टिप्स, बता रही हैं चर्चित IAS अधिकारी टीना डाबी

देश भर में यूपीएससी में टॉप करने के बाद आईएएस बनीं टीना डाबी अधिकांश चर्चाओं में रहती हैं। चाहे...

सबसे अधिक जमीन खरीदकर अमेरिका के नंबर-1 किसान बनें बिल गेटस, इतनी जमीन खरीदकर बनाया रिकार्ड

दुनिया के चौथे अमीर शख्स बिल गेटस ने अपने नाम एक और बड़ा रिकार्ड बना लिया है। वह अमेरिका...

किसी भी माँ-बाप के लिए वह पल बहुत ही बड़ा और अमूल्य होता है जब उन्हें उनके बच्चों के नाम से जाना जाता है| हर माँ-बाप का एक ही सपना होता है कि उनका बच्चा खूब नाम कमाए और सफलता को हासिल कर अपने भविष्य को सुरक्षित करे| आज कहानी एक ऐसे शख्स की जिसने अपने पिता का सीना गर्व से चौड़ा कर दिया| आज इस शख्स के पिता इन्हें सलाम करते हुए गौरवान्वित महसूस करते हैं|

आइए जानते हैं आईपीएस अधिकारी अनूप के बारे में

अनूप कुमार सिंह एक IPS अधिकारी हैं| वह उन्नाव में पुलिस अधीक्षक के पद पर तैनात थे| लेकिन हाल ही में उनका तबादला लखनऊ में कर दिया गया है| यह वही ज़िला है जहां अनूप के पिता भी कॉन्सटेबल के पद पर तैनात है| अनूप और उनके पिता के लिए यह बहुत बड़ी बात है कि जिस ज़िले में अनूप के पिता कॉन्सटेबल हैं उसी ज़िले का सबसे बड़ा अधिकारी उनका बेटा है|

अच्छी कमाई न होने के बावजूद भी बेटे को खूब-पढ़ाया लिखाया

बता दें कि अनूप के पिता जनार्दन की कमाई अच्छी नहीं थी| उन्हें कम वेतन ही मिलता था| इसके बावजूद भी जनार्दन ने अपने पुत्र अनूप की पढ़ाई से कभी समझौता नहीं किया| एक साक्षात्कार में अनूप बताते हैं कि उनके पिता की कमाई अच्छी न होने के बावजूद भी उन्हें कभी कॉपी किताब या फीस के लिए जद्दोजहद नहीं करनी पड़ी| उनके पिता कड़ी मेहनत कर उनकी हर जरूरत को पूरा करते थे|

बेटे ने IPS बन, किया पिता का सीना गर्व से चौड़ा

अनूप ने आज IPS बन अपने पिता का नाम रोशन कर दिया है साथ ही उन्हें गौरवान्वित भी किया है| जब जनार्दन को पता चला कि जिस ज़िले में वह कॉन्सटेबल हैं उस ज़िले का सबसे बड़ा अधिकारी उनका बेटा है तो उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं था| वर्तमान में पिता और पुत्र दोनों अपने फर्ज़ को बखूबी निभा रहे हैं| बेशक उनका पिता और बेटे का रिश्ता है लेकिन इस बात का असर वह अपने काम पर कभी नहीं पड़ने देते हैं| आज अनूप के पिता अनूप को सलाम करते हैं और उन्हें सलाम करते हुए उनका सीना फ़क्र से चौड़ा हो जाता है|

- Advertisement -

Latest News

होने से पहले ही टूट गई रतन टाटा और एलन मस्क की पार्टनरशिप, टाटा मोटर्स ने ये खुलासा कर चौंका दिया

भारत में दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क की इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी भारत में आने से...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -