Tuesday, April 20, 2021
- Advertisement -

इस डॉगी की वफादारी ने कर दिया कायल, मालिक हुए बीमार तो घर से भागकर पहुंच गया अस्पताल

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

पालतू कुत्ते की वफादारी को लेकर इतिहास भरा हुआ है। लोग कुत्ता इसलिए भी पालते हैं कि वह पूरी वफादारी के साथ अपने मालिक का ख्याल रखता है। हर दुख सुख में कुत्ते की वफादारी की मिसाल दी जाती हैं। कुत्ता अपने घर की रखवाली करने के साथ साथ मालिक की दुत्कार भी सहन करता है। इसके बावजूद उसकी वफादारी में कोई कमी नहीं आती। यही वजह है कि पूरी दुनिया में कुत्ता पालने वालों की संख्या भी करोड़ों में है। इसके चलते ही दुनिया भर में कुत्ते बेचने व खरीदने का व्यापार भी तेजी से बढ़ता जा रहा है। इन कुत्तों की कीमत भी लाखों रुपए में होती है। हर नस्ल के कुत्ते की अपनी मार्केट वैल्यू भी होती है।

ये है इस फीमेल डॉग की कहानी

लेकिन आज हम आपको एक ऐसी फीमेल डॉग की कहानी से अवगत करवा रहे हैं, जिसने अपने मालिक के प्रति इतनी वफादारी दिखाई कि वह मीडिया की हैडलाईन हो गई। इस फीमेल डॉग के मालिक जब बीमार हुए तो इस डॉग ने उनका साथ अस्पताल में भी नहीं छोड़ा। यह खबर है उत्तर तुर्की की। यह मामला 14 जनवरी का है, जब वहां रहने वाले एक शख्स जिनका नाम कैमल सेनटुर्क था, अचानक बीमार हो गए और एंबुलेंस उन्हें अस्पताल लेकर जा रही थी। उसी वक्त उनकी इस डॉग ने एंबुलेंस का पीछा किया और और अस्पताल तक पहुंच गई।

twitter/sudha ramen IFS

मालिक की सेवा में अस्पताल पहुंच जाती है ये डॉग

अब यह डॉग हर रोज अपने मालिक को देखने के लिए टरबजोन टाऊन के पास स्थित अस्पताल पहुंच जाती है। हालांकि घर के सदस्य और कैमल की बेटी रोजाना डॉगी को लेकर वापिस घर आ जाती है, मगर वह फिर से भागकर अस्पताल पहुंच जाती है। अस्पताल के सुरक्षा गार्ड का कहना है कि यह डॉग रोज सुबह नौ बजे आ जाती है और रात होने तक वापिस नहीं जाती। लेकिन हैरत की बात है कि वह अस्पताल के अंदर नहीं जाती और बाहर बैठकर अपने मालिक के वापिस आने का इंतजार करती है।

अस्पताल से हुए डिस्चार्ज

यह पता चलते ही कैमल का दिल भी बुरी तरह से पसीज गया और जानकारी मिलते ही वह व्हीलचेयर पर बैठकर अपनी डॉगी से मिलने के लिए बाहर चले आए। फिलहाल उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। वह अपने डॉगी के साथ घर पर आ गए हैं।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -