Sunday, April 18, 2021
- Advertisement -

मिलिए इस दानवीर से, फायर स्टेशन, स्कूल और अस्पताल के लिए दान में दे दी अपनी करोड़ों रुपए की जमीन

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

आज हम आपको एक ऐसे परिवार की कहानी बताएंगे, जोकि मानवता और लोगों की भलाई के लिए अपनी करोड़ों रुपए की सपंत्ति दान में देते आए हैं। इस परिवार के शख्स ने एक बार फिर से अपनी एक करोड़ रुपए की जमीन ग्रामीणों की भलाई के लिए स्वैच्छिक तौर पर दान दे दी। इस जमीन पर सरकार द्वारा फायर स्टेशन का निर्माण किया जा रहा है।

दरियादिली में खूब नाम है मोलोय दास का

इस दानवीर का नाम है मोलोय दास, जोकि पश्चिम बंगाल के सबोंग स्थित दांदुरदा गांव के निवासी हैं। मलोय दास स्टील फै्र बिकेशन यूनिट चलाते हैं और उनके पास अच्छी खासी संपत्ति है। उनके परिवार की दरियादिली का आलम यह है कि इससे पहले भी वह अपनी जमीन जनहित के काम के लिए दान दे चुके हैं। इस बार मलोय दास ने एक करोड़ रुपए कीमत का अपना प्लाट देकर ग्रामीणों की बड़ी मदद की है। इस जमीन पर सरकार द्वारा करीब साढ़े तीन करोड़ रुपए की लागत से फायर स्टेशन का निर्माण किया जा रहा है।

TOI

 

दादा के कामों से हैं प्रभावित

मोलोय दास ने बताया कि वह अपने दादा द्वारा किए जाने वाले सेवा भाव के कार्यों से प्रभावित हैं। वह भी इलाके में अपनी दरियादिली के लिए जाने जाते थे। उन्होंने भी गांव में स्कूल और पोस्ट आफिस बनवाने के लिए अपनी जमीन दान दी थी। इसी प्रकार से मोलोय दास ने भी दूसरी बार जमीन दान देने का फैसला किया है। फायर स्टेशन से पहले उन्होंने भी अपनी जमीन दान देकर एक स्कूल बनवाया है।

अब अस्पताल के लिए दान देंगे जमीन

अब वह एक अस्पताल बनवाने के लिए भी अपनी जमीन दान देने का फैसला कर चुके हैं। गांव में चिकित्सा सुविधा की कमी होने के चलते लोग बहुत परेशान रहते हैं। अस्पताल बनने से लोगों को बहुत राहत महसूस होगी। मोलोय दास का कहना है कि उनका कोई राजनैतिक उददेश्य नहीं है। वह तो केवल अपने देशवासियों की मदद करने का जज्बा रखते हैं।

 

 

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -