Saturday, February 27, 2021
- Advertisement -

आतंकी बनकर किया था आतंकवादियों का सफाया, हरियाणा के बेटे कर्नल मोहित के शौर्य व बहादुरी पर बनेगी फिल्म

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

हरियाणा के बेटे मोहित शर्मा ने अपनी बहादुरी से ना केवल दुश्मनों के छक्के छुड़ाए थे, बल्कि हिजबुल आतंकियों के घर में घुसकर उन्हें तहस नहस कर दिया था। भारतीय सेना के इस वीर, निडर और अशोक चक्र से सम्मानित इस जवान पर फिल्म बनने जा रही है। इस फिल्म का पहला लुक जारी कर दिया गया है। इस पोस्टर में मेजर को इफ्तिखार के लुक में शो किया गया है। इस फिल्म में मेजर मोहित का किरदार किस अभिनेता द्वारा किया जाएगा, यह अभी तय नहीं हो पाया है। इस फिल्म का निर्माण अप्लॉज एंटरटेनमेंट प्रोडाक्शन हाऊस द्वारा किया जा रहा है। फिल्म का नाम इफ्तिखार रखा गया है।

इस तरह से आतंकी बनें थे मोहित शर्मा

बता दें कि कर्नल मोहित शर्मा ने आतंकी इफ्तिखार बनकर हिजबुल आतंकियों का विश्वास जीता था। अभी तक आपने फिल्मों में इस तरह के किरदार देखे होंगे। मगर असलियत में कर्नल मोहित शर्मा ने इस किरदार को जीवंत तौर पर निभाया था और हिजबुल के दो खूंखार आतंकियों को मौत के घाट उतारा था। इसलिए फिल्म निर्माता ने शहीद कर्नल मोहित शर्मा के असली किरदार को फिल्म के जरिए देश के नौजवानों तक पहुंचाने का जिम्मा लिया है। यह फिल्म कर्नल मोहित शर्मा के शौर्य व बलिदान के प्रति समर्पित होगी।

india times

खुफिया आपरेशन के तहत बनें थे इफ्तिखार भट्ट

कर्नल मोहित ने एक खुफिया आपरेशन के अंतर्गत वर्ष 2004 में हिजबुल मुजाहिद्दीन आतंकी संगठन में घुसपैठ की थी। वह इफ्तिखार भट्ट बनकर इस संगठन में शामिल हो गए थे और वहां के दो बड़े व खूंखार आतंकियों को मार गिराने में सफलता पाई थी। 13 जनवरी 1978 को रोहतक में जन्मे मोहित शर्मा ने 1995 में सेना के लिए परीक्षा दी थी। जिसमें पास होने के बाद 1998 में वह भारतीय सेना अकादमी के लिए चुन लिए गए। 1999 में उन्हें लेफिटनेंट के पद से नवाजा गया था। इसके बाद अनेक प्रशिक्षण के बाद उन्हें पैरा स्पेशल फोर्स में शामिल किया गया। इसके बाद 2003 में मोहित शर्मा को प्रशिक्षित पैरा कमांडो के तौर प्रशिक्षित किया गया।

बहादुरी के अनेक किस्से हैं मोहित के नाम

अपने इस सेवाकाल के दौरान मोहित शर्मा ने कई अवसर पर अपनी बहादुरी का परिचय दिया था । इसी कड़ी में उन्होंने इफ्तिखार भट्ट बनकर ऐसा खतरनाक काम किया, जिसमें मौके पर ही उनकी जान भी जा सकती थी। मगर उन्होंने इसकी परवाह किए बिना इस बहादुरी के कार्य को बेखौफ होकर अंजाम दिया। अपनी इस वीरता के लिए कर्नल मोहित को खूब सराहना मिली।

इस तरह से देश पर शहीद हुए मोहित

पांच साल बाद आतंकियों से मुठभेड में कुपवाड़ा में कर्नल मोहित ने खुद को देश के लिए शहीद कर दिया। मरणोपरांत कर्नल को अशोक च्रक से सम्मानित किया गया। अब उनके इस वीरता व शौर्य के किरदार को देश के सामने बेहतरीन तरीके से रखकर उन पर फिल्म बनाने का निर्णय लिया गया है। बताया गया है कि इस फिल्म का जल्द से जल्द निर्माण कर उसे 15 अगस्त के दिन रिलिज किया जा सकता है।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -