Friday, May 14, 2021
- Advertisement -

भव्य राममंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति ने दिए 5 लाख, साध्वी ने 1 लाख तो बापू ने सभी दान देने वालों को पीछे छोड़ा

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...
Sanjay Kapoorhttps://citymailnews.com
Sanjay kapoor is a chief editor of citymail media group

अयोध्या में भव्य राममंदिर निर्माण के लिए धन की बरसात होनी शुरू हो गई है। राममंदिर जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र द्वारा मंदिर निर्माण के लिए चंदा संग्रहण का अभियान आरंभ कर दिया गया है। मंदिर निर्माण के लिए सबसे पहले देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपना योगदान दिया है। उन्होंने इस कार्य हेतु अपने कोष से पांच लाख 100 रुपए का दान दिया है। उनके द्वारा शुरूआत करने के उपरांत पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री साध्वी उमा भारती ने भी इस कार्य के लिए आगे आते हुए एक लाख रुपए का चंदा दिया है।

file photo instagram / uma bharti

सीएम शिवराज ने भी सौंपा चैक

मंदिर निर्माण के कार्य को शुरू करने के लिए धन संग्रहण का अभियान आरंभ किया गया है। इस महाअभियान के अंतर्गत साध्वी ने मध्यप्रदेश भवन में विश्व हिन्दू परिषद के विभाग प्रचारक सुभाष चंद्र को यह राशि सौंपी है। उनके साथ ही मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक लाख रुपए की राशि चैक के रूप में मंदिर निर्माण कोष में भेंट की है। उन्होंने विहिप के राष्ट्रीय संगठन मंत्री विनायक राव देशमुख को यह चैक सौंपा है।

योगी और शिवसेना ने भी दिखाई भागेदारी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस कार्य में पीछे नहीं रहे। उन्होंने इस अभियान में बढ़ चढक़र हिस्सा लेते हुए 11 लाख रुपए की राशि भेंट की है। इसी तरह से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उदव ठाकरे की शिवसेना ने भी इस अभियान में अपनी भागेदारी दिखाते हुए एक करोड़ रुपए की राशि दी है। वहीं संत मोरारी बापू ने सभी दानदाताओं को पीछे छोड़ते हुए अब तक की सबसे बड़ी राशि इस कोष में भेंट की है। संत मोरारी बापू ने इस कोष में 11करोड़ रुपए की राशि भेंट की है।

12 करोड़ लोगों से मांगा जाएगा दान

बता दें कि मंदिर निर्माण हेतु राशि संग्रहण का यह अभियान 27 फरवरी तक जारी रहेगा। इसके अंतर्गत पांच लाख से ज्यादा गांवों में जाकर यह राशि जुटाई जाएगी। लक्ष्य रखा गया है कि इन गांवों में रहने वाले करीब 12 करोड़ से भी अधिक परिवारों से संपर्क साधकर मंदिर बनाने के लिए उनसे भेंट मांगी जाएगी।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -