Thursday, April 22, 2021
- Advertisement -

प्रशासन ने अनसुनी कर दी गुहार, ग्रामीणों ने चंदा इकठ्ठा कर खुद बना दिया पुल, पेश की शानदार मिसाल

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

कहने को तो सरकार विकास कार्य करवाने के बड़े बड़े दावे करती है, मगर हकीकत में इन दावों की हवा आम जनता ही निकाल देती है। ऐसा ही एक मामला हाल ही में सामने आया है, जब ग्रामीणों ने खुद पैसा इकठ्ठा कर ना केवल सरकार के दावों को आईना दिखा दिया, बल्कि खुद के लिए नदी पुल भी बना दिया।

पुल की वजह से परेशान थे ग्रामीण

यह खबर है उत्तर प्रदेश के बहराईच जिले के कोतवाली नानपारा गांव की। जहां के लोग एक पुल ना होने की वजह से कई सालों से बेहद दुखी थे। लोगों ने प्रशासन व सरकार के पास इस पुल के निर्माण को लेकर अनेकों बार गुहार लगाई। मगर उनकी मांग को किसी ने भी साकार नहीं किया और ग्रामीणों को उनके हाल पर ही छोड़ दिया। इस गांव में सरयू नदी पर एक पुल का निर्माण होना है, मगर प्रशासन व सरकार के कानों तक लोगों की मांग नहीं पहुंच पा रही थी।

india times

इस तरह से बना दिया पुल

इसके चलते ही ग्रामीणों ने निर्णय लिया कि वह इस पचास मीटर पुल का खुद ही अपने खर्च पर निर्माण करेंगे। यह फैसला लेते ही सभी ने पैसे इकठ्ठे किए और पुल का निर्माण शुरू कर दिया। बांस और बल्ली के सहारे इस पुल का निर्माण कर दिया गया है। इस पुल के बनने के बाद गांव से तहसील तक पहुंचने की दूरी 35 किलोमीटर से कम होकर मात्र 10 किलोमीटर रह गई है।

सरयू नदी पर बनाया गया है ये पुल

लोगों ने बताया कि इस पुल के निर्माण को लेकर वह कई जगह धक्के खा चुके है। मगर किसी ने भी उनकी गुहार पर सुनवाई नहीं की। इसके बाद उन्होंने खुद यह पुल बनाकर मिसाल पेश करते हुए सरकार को आईना दिखा दिया है। लोगों ने दिन रात मेहनत कर और खुद से चंदा इकठ्ठा कर इस पुल का निर्माण कर दिया है। अब सरयू नदी पर बांस, लकड़ी एवं जूट की रस्सी से यह पुल बनकर तैयार हो गया है। ग्रामीणों का कहना है कि उन्होंने फिलहाल अस्थाई तौर पर इस पुल को बना तो दिया है, मगर उनकी सरकार व प्रशासन से अपील है कि बरसात को ध्यान में रखते हुए इस पुल का पक्का निर्माणा किया जाना चाहिए। अन्यथा बारिश के उफान में यह पुल टूटकर गिर जाएगा।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -