Friday, April 23, 2021
- Advertisement -

दिल्ली पुलिस के इस जवान ने बचा ली आधा दर्जन से ज्यादा लोगों की जिंदगी

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

New Delhi: शांति सेवा और न्याय का भरोसा दिलाने वाली दिल्ली पुलिस सच मायनों में दिल वाली पुलिस है। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि दिल्ली पुलिस हमेशा दिल्ली के नागरिकों की भलाई के लिए बेहतर कार्य करती रही है। चाहे वह कोराना काल का समय ही क्यों न हो। बहरहाल, आज हम आपको दिल्ली पुलिस के एक ऐसे बहादुर कांस्टेबल के बारे में बताने जा रहे हैं,जिन्होंने छह लोगों की जिंदगी बचा ली। जी हां आपने ठीक सुना। आइए जानते हैं इस जवान के बारे में

जब कोरोना से संक्रमित हुआ यह जवान
दिल्ली में यूं तो कोराना वायरस के मामले मौजूदा समय में कम हो रहे हैं.लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब दिल्ली में लगातार कोराना के मामले बढ़ रहे थे। इसी बीच दिल्ली पुलिस का जवान कृष्ण कुमार कोराना से संक्रमित पाए गए। 40 साल का यह जवान कापसहेड़ा पुलिस स्टेशन में कांस्टेबल के पद पर कार्यरत है।

जब अस्पताल में भर्ती कराया गया
प्राप्त जानकारी के अनुसार 1 मई को कृष्ण कुमार का कोराना परीक्षण किया गया तो वह कोराना संक्रमित पाए गए। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि उन्होंने अपने सीनियर के सहयोग व बेहतर इलाज के बाद इस बीमारी सेजंग जीतने में कामयाब रहे और उन्हें 19 मई को छुट्टी दे दी गई।

कोराना से जंग जीतने के बाद दूसरे मरीजों के लिए बने मसीहा
दिल्ली पुलिस का यह जवान जब पूर्ण रुप से ठीक हुआ तो इसने तय कर लिया कि वह अब दूसरे संक्रमित की मदद करेगा। इस कड़ी में उसने सबसे पहले 28 मई को अपने एक दोस्त की पत्नी को रक्त प्लाज्मा डोनेट किया। इसके बाद तो उन्होंने एक नहीं बल्कि आधा दर्जन से ज्यादा लोगों को प्लाज्मा डोनेट कर उनकी जिंदगी बचाई है।

क्या बोले जवान
दिल्ली पुलिस के जवान कृष्ण कुमार बताते हैं कि उन्हें प्लाज्मा डोनेट करने के दौरान कमजोरी जरूर महसूस हुई। लेकिन उन्हें अपने सीनियर के द्वारा किए गए मदद की याद आई। इससे उन्हें तय किया कि वह मरीजों की मदद करेंगे। वह बताते हैं कि जब भी किसी को जरूरत पड़ेगी वह मदद के लिए आगे आते रहेंगे। बताया जाता है कि दिल्ली पुलिस के कई जवानों ने 350 से ज्यादा पीडि़तों की जान बचाई है।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -