Wednesday, January 20, 2021
- Advertisement -

जुर्म बर्दाश्त नहीं करती यह दबंग महिला आईपीएस, 20 साल की नौकरी में 40 बार हुआ तबादला

Must Read

सलाम है इस शिक्षक को, हर रोज घोड़े पर बच्चों को पढ़ाने के लिए 18 किलोमीटर दूर जाते हैं वेंकटरमन

गुरू और शिक्षक किसी की भी तकदीर बनाने में सक्षम माने जाते हैं। कहते हैं कि शिक्षक उस दीपक...

किसी की मोहताज नहीं होती कामयाबी, प्रिंस ने साबित कर दिखाया, बनाया ऐसा पक्षी, जो बचाएगा हजारों जिदंगी

कहते है कि कामयाबी किसी की मोहताज नहीं होती। जिसके अंदर काबलियत होगी, कामयाबी उसकी चौखट पर खड़ी होती...

New Delhi: फिल्मों में आईपीएस अफसर का किरदार निभाते हुए आपने कई स्टार को देखा होगा जो जुर्म के खिलाफ अपनी नौकरी को कुर्बान करने के लिए भी तैयार हो जाते हैं। आज हम आपके लिए एक ऐसी महिला आईपीएस की स्टोरी लेकर आए हैं, जिन्होंने जहां पर चार्ज लिया, वहां पर जुर्म का सफाया कर दिया। जी हां आपने ठीक सुना हम बात कर रहे हैं आईपीएस रूपा दिवाकर मौदगिल की। चलिए जानते हैं इनके बारे में

2000 बैच की आईपीएस हैं रुपा
रूपा साल 2000 बैच की आईपीएस अफसर हैं। और अपने तेज तर्रार दिमाग के लिए जानी जाती हैं। रुपा के बारे में एक कहावत मशहूर है कि वह जुर्म को बर्दाश्त नहीं करती हैं।

जुर्म के खिलाफ आवाज उठाने पर होता था तबादला
रूपा के बारे में एक चीज उन्हें दूसरे अफसरों से अलग करती थी। वह था रूपा का किसी भी कीमत पर सरेंडर न करना। अगर जिस जिले में उन्हें पोस्टिंग मिली हैं, वहां पर अगर जुर्म हो रहा है तो वह उसे बर्दाश्त नहीं करती थी। यहीं कारण है कि रूपा को जल्द ही तबादला मिलता था।

सीएम को कर चुकी हैं गिरफ्तार
रूपा पहली आईपीएस अफसर हैं जिन्होंने सीएम को गिरफ्तार करने से भी पीछे नहीं हटी थी। उन्होंने मध्य प्रदेश के तत्कालीन सीएम उमा भारती को भी गिरफ्तार कर लिया था। यही वजह है कि उन पर कई बार काम को लेकर प्रैशर बनाया गया।

अब तक 40 बार हुआ ट्रांसफर
रूपा ने अपने करियर में काफी तबादले देखे हैं। 20 साल की नौकरी में रूपा का 40 बार तबादला किया गया। बताते चले कि रूपा ने साल 2000 में 43 वीं रैंक लाकर यूपीएससी परीक्षा पास की थी। और आईपीएस बनी थी।

क्या कहती हैं रुपा
रुपा अपने तबादले को लेकर कहती हैं कि यह सरकारी नौकरी का हिस्सा है। वह बताती हैं कि भष्ट्राचार के खिलाफ आवाज उठाने में जोखिम है। परंतु वह आवाज उठाती रहेंगी। बताते चले कि उनके तबादले को लेकर सोशल मीडिया पर भी प्रतिक्रिया आ रही थी। जिस पर लोगों ने कहा था कि रूपा जैसी अफसर के साथ यह गलत हो रहा है।

 

- Advertisement -

Latest News

- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -