Tuesday, April 20, 2021
- Advertisement -

इस युवक ने कहा, शौक बड़ी चीज है, यह कहकर तैयार कर दी लकड़ी की असली बुलेट बाईक

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

कहते हैं शौक बड़ी चीज है, शौक के लिए इंसान कुछ भी और कितना भी खर्चा कर सकता है। इस युवक ने भी अपने शौक को पूरा करने के लिए कई लाख रुपए की लागत से एक ऐसी बुलेट बाईक तैयार कर दी है, जिसे देखने वाले दांतो तले उंगली दबा लेते हैं। इस बाईक पर आई लागत से एक नई बुलेट खरीदी जा सकती है। मगर इस युवक ने परवाह नहीं की और अपने शौक को पूरा करने के लिए शानदार लकड़ी से बाईक बना डाली। फिलहाल यह बाईक लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। हर कोई इस बाईक को बनाने वाले की तारीफ भी कर रहे हैं।

इस शहर में मिलती है लकड़ी

केरल प्रदेश का कारूलई कलाम नामक यह इलाका सागवान की लकड़ी के लिए जाना जाता है। वहां सागवान की लकड़ी काफी अधिक मात्रा में पाई जाती है। इसी क्षेत्र के रहने वाले जिधिन कारूलाई ने ही सागवान की लकड़ी से ये शानदार बुलेट तैयार की है। देखने में यह बिल्कुल असली बुलेट बाईक जैसी ही दिखाई देती है।

aaj tak

असली बाईक जितनी है इसकी कीमत

जिधिन का कहना है कि जब उनकी यह शानदार लकड़ी की बुलेट तैयार हुई तो उसकी कीमत असली बुलेट बाईक के बराबर ही आई। उसने अपनी असली बुलेट बाईक के साथ मॉडल के तौर पर लकड़ी की बुलेट को खड़ा किया हुआ है। लोग उस बाईक को देखते हैं और उसकी खूब तारीफ भी करते हैं । उसकी इस बाईक की ख्याति दूर दूर तक फैल गई है और लोग उसे स्पेशल देखने के लिए आते हैं।

इलेक्ट्रिशन हैं यह युवक

बता दें कि जिधिन पेशे से एक इलेक्ट्रिशियन हैं और बाईक के शौकीन भी हैं। उन्हें अचानक ये ख्याल आया कि क्यों ना लकड़ी की बाईक बनाई जाए। यह विचार आते ही वह इसमें जुट गए और दो साल तक की कड़ी मेहनत और मशक्कत के बाद इस बुलेट बाईक को तैयार करने में सफल हुए। वह दिन रात इस बाईक को बनाने में ही लगे रहते थे।

बाईक के पहिए मलेशियाई लकड़ी के हैं

जिधिन ने इस बाईक को बनाने के दौरान पहियों के लिए मलेशियाई लकड़ी का प्रयोग किया है। इसी तरह से पेट्रोल के टैंक के लिए शीशम की लकड़ी का इस्तेमाल किया गया है। बाकि की सारी बाईक में सागवान की लकड़ी ही लगाई गई है। हैरान करने वाली बात तो ये है कि जिधिन ने अकेले ही इस बाईक को तैयार किया है और किसी दूसरे व्यक्ति की सहायता नहीं ली है।

पहले बनाई थी खिलौने जैसी बाईक

जिधिन ने बताया कि वह पांच साल तक विदेश में रह चुके हैं और उन्हें जब यह बाईक बनाने की धुन सवार हुई, तब उन्होंने एक रीयल बाईक खरीदी थी। इसके बाद उन्होंने इसका पूरा खाका तैयार किया और एक छोटी खिलौने जैसी बाईक बनाई थी। इसके बाद उन्होंने रियल साईज लकड़ी की बुलेट बनाने का निर्णय लिया। इसके बाद वह लकड़ी की बाईक बनाने की धुन को असली रूप देने में जुट गए थे। जिसका परिणाम यह हुआ कि आज उनकी रियल साईज लकड़ी की बुलेट बनकर तैयार हो गई है।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -