Tuesday, January 19, 2021
- Advertisement -

मन्नत मांगी तो ठीक हो गया बीमार बेटा, मुस्लिम परिवार ने अपने घर में बनाया मंदिर, हर रोज करते हैं पूजा

Must Read

सलाम है इस शिक्षक को, हर रोज घोड़े पर बच्चों को पढ़ाने के लिए 18 किलोमीटर दूर जाते हैं वेंकटरमन

गुरू और शिक्षक किसी की भी तकदीर बनाने में सक्षम माने जाते हैं। कहते हैं कि शिक्षक उस दीपक...

किसी की मोहताज नहीं होती कामयाबी, प्रिंस ने साबित कर दिखाया, बनाया ऐसा पक्षी, जो बचाएगा हजारों जिदंगी

कहते है कि कामयाबी किसी की मोहताज नहीं होती। जिसके अंदर काबलियत होगी, कामयाबी उसकी चौखट पर खड़ी होती...
Sanjay Kapoorhttps://citymailnews.com
Sanjay kapoor is a chief editor of citymail media group

धर्म और आस्था पर चाहे लाख पहरे बिठा दो, इसके बावजूद उसे कोई रोक नहीं सकता। इसी कड़ी में आज हम बात करेंगे अलीगढ़ के एक मुस्लिम परिवार की, जिन्होंने अपने घर में ना केवल मंदिर की स्थापना करवा ली, बल्कि अब हर रोज उनके घर से हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार पूजा, घंटी और शंख की आवाजें आती हैं।

पूजा में बजती हैं घंटी और शंख

अब उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ का यह मुस्लिम परिवार हर रोज पूजा पाठ करता है। देहलीगेट इलाके के शाहजमाल स्थित एडीए कालोनी में रहने वाले इस मुस्लिम परिवार ने अपने बीमार बेटे के ठीक होने की मन्नत मांगी थी। मीडिया रिपोर्टस के अनुसार आसिफ खान अपनी पत्नी रूबी और बेटे आसिफ के साथ रहते हैं। कुछ दिन पहले उनका बेटा काफी अधिक बीमार हो गया था। इस परिवार ने एक मंदिर में बेटे के जल्द से जल्द ठीक होने की मन्नत मांगी थी। बेटा ठीक हुआ तो इस परिवार की भगवान में आस्था भी गहरी हो गई। परिवार ने तत्काल अपने घर में भगवान का मंदिर भी स्थापित कर लिया। मंदिर में राम दरबार, गणेश जी और भगवान कृष्ण की तस्वीरें रखी हैं।

मन्नत मांगी तो ठीक हुआ बेटा

मंदिर की स्थापना के बाद अब यह परिवार हर रोज अपने घर में ही हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार भगवान की पूजा अर्चना करते हैं। हर रोज घर से घंटी, शंख और पूजा की आवाजें सुनाई देती हैं। रूबी का कहना है कि उनकी भगवान में अटूट आस्था हैं। उनका बेटा इस कदर बीमार हो गया था, मगर भगवान से मन्नत मांगने के बाद जैसे ही उनका बेटा ठीक हुआ तो सबसे पहले उन्होंने मांगी गई मन्नत के अनुसार अपने घर में मंदिर की स्थापना की है।

- Advertisement -

Latest News

- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -