Tuesday, January 19, 2021
- Advertisement -

जुड़वा बेटी हुई तो मां ने ठुकरा दिया, इस डॉक्टर ने दिखाई ममता और बच्चियों को अपना लिया

Must Read

सलाम है इस शिक्षक को, हर रोज घोड़े पर बच्चों को पढ़ाने के लिए 18 किलोमीटर दूर जाते हैं वेंकटरमन

गुरू और शिक्षक किसी की भी तकदीर बनाने में सक्षम माने जाते हैं। कहते हैं कि शिक्षक उस दीपक...

किसी की मोहताज नहीं होती कामयाबी, प्रिंस ने साबित कर दिखाया, बनाया ऐसा पक्षी, जो बचाएगा हजारों जिदंगी

कहते है कि कामयाबी किसी की मोहताज नहीं होती। जिसके अंदर काबलियत होगी, कामयाबी उसकी चौखट पर खड़ी होती...

New Delhi: आज भी हमारे समाज में बेटियों को बोझ समझने वाले लोगों की कमी नहीं है। समाज में संकुचित मानसिकता वाले लोगों की वजह से ही बेटियों को पहले गर्भ में फिर जन्म लेने के दौरान मार दिया जाता है। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि एक मां ने अपनी अपनी जुड़वा बच्चियों को जन्म देने के बाद ठुकरा दिया। बच्चियों का मुंह देखना तो दूर जैसे ही उसे पता चला कि बेटी हुई है तो वह बच्चियों से मुंह फेर कर चली गई। वहीं, कुदरत को कुछ और ही मंजूर था। इन बच्चियों को भले ही उनकी मां ने ठुकरा दिया। लेकिन डॉ. कोमल यादव ने एक मां की जिम्मेदारी लेते हुए इन बच्चियों को अपना लिया है। साथ ही ऐलान भी कर दिया है कि वह उसी शख्स से शादी करेंगी जो इन बच्चियों को अपनाएगा।

 

आईएएस अफसर ने शेयर की फोटो

 आईएएस अफसर अवनीश शरण ने ट्विटर पर एक फोटो शेयर की है। जिसमें एक महिला दो जुड़वा बच्चियों के साथ हैं। इस फोटो को सोशल मीडिया पर काफी पंसद किया जा रहा है। बच्चियों के साथ यह महिला डॉ. कोमल यादव है।

मां को पता चला जुड़वा बेटी हुई तो छोड़ कर चली गई
जुड़वा बच्चियों के जन्म के बाद ही उनकी अपनी मां ने उन्हें ठुकरा दिया। फोटो में दिखाई देने वाली महिला ने ही इनकी जिम्मेदारी ली है।

जुड़वा बच्ची को महिला डॉक्टर ने अपना लिया
अपनी मां ने अपनी संतान को अपनाने से मना कर दिया। लेकिन इस महिला डॉक्टर ने ममता का सबूत देते हुए इन दोनों बच्चियों को अपनी बच्ची की तरह अपना लिया है। आप देख सकते हैं कि दोनों बच्चियों के साथ यह महिला कितना खुश लग रही हैं।

महिला ने रख दी शर्त
महिला डॉक्टर ने जुड़वा बच्चियों को तो अपना लिया है। साथ ही एक शर्त भी रख दी है कि वह उसी से शादी करेंगी जो उनकी दोनों बच्चियों को अपनाएगा। महिला की फिलहाल शादी नहीं हुई है। बताते चले कि महिला डॉक्टर का नाम डॉ. कोमल यादव है, और वह वर्तमान में फर्रुखाबाद के एक निजी अस्पताल में तैनात हैं।

- Advertisement -

Latest News

- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -