Thursday, April 15, 2021
- Advertisement -

रियल हीरो का गजब काम: बिहार के इस होनहार खिलाड़ी के लिए मसीहा बनें सोनू सूद, इस तरह से दिया नया जीवन

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...
Sanjay Kapoorhttps://citymailnews.com
Sanjay kapoor is a chief editor of citymail media group

फिल्म अभिनेता सोनू सूद फिर से अपनी जनसेवा वाली कार्यप्रणाली को लेकर चर्चाओं में है। फिल्मों में खुद को खलनायक के किरदार में प्रस्तुत करने वाले सोनू सूद असली जिदंगी में लोगों के लिए हीरो बन गए हैं। हाल ही में उन्होंने 9 साल के एक बच्चे का दिल का आपरेशन कर उसे नया जीवन देने का शानदार काम किया है। एक बार फिर से उन्होंने एक खिलाड़ी को बड़ी सहायता देकर उससे देश के लिए मैडल लाने का वचन लिया है।

instagram

इस तरह से चोटिल हुए थे आनंद

इस खिलाड़ी ने भी अपनी मदद पर सोनू सूद का आभार जताया है। एक वीडियो जारी कर इस खिलाड़ी ने अपनी मदद के लिए सोनू सूद का धन्यवाद करते हुए अपनी मदद की पूरी कहानी बयां की है। बिहार के नालंदा जिले के नूरसराय के पपरनौसा गांव के रहने वाले एथलीट आनंद कुमार के घुटने में चोट लग गई थी। साल 2018 में हरियाणा के रोहतक में आयोजित नेशनल गेम में भाग लेने गए थे आनंद, जहां ट्रिपल जंप करते वक्त चोट लग गई थी। गेम से वापिस आने के बाद आनंद अपने घुटने की चोट के चलते परेशान रहने लगा था।

मांगी थी सोनू से मदद

आनंद ने इस घटना का जिक्र सोनू सूद से टिवटर के जरिए किया था। आनंद की समस्या जानने के बाद सोनू सूद ने उसे टवीट कर आश्वासन दिया और कहा कि वह देश के लिए मैडल लाने की तैयारी करे, बाकि काम मेरा है। इसके बाद आनंद के लिए गाजियाबाद स्थिति हीलिंग ट्री अस्पताल में उसके ईलाज की निशुल्क व्यवस्था की गई। अस्पताल से ईलाज के बाद 3 फरवरी के दिन आनंद को छुटटी भी मिल चुकी है। आनंद ने इसके लिए सोनू सूद का आभार जताया है।

बिहार में हीरो हैं सोनू सूद

बता दें कि सोनू ने बिहार के हजारों लोगों की लॉकडाऊन के दौरान मदद की है। इसलिए बिहार में सोनू की लोकप्रियता का आलम यह है कि लोग उनके नाम पर अपने बच्चों का नामकरण तो करते ही हैं, साथ ही अपनी दुकान व बिजनेस का नाम भी सोनू के नाम पर ही रखते हैं। आनंद के पिता वरूण विक्रम सोनभद्र ने बताया कि उनका बेटा एक अच्छा एथलीट है। वह अपने प्रदेश के लिए गोल्ड मैडल भी जीतकर ला चुका है। पंरतु उसके घुटने की चोट ने उसका कैरियर तबाह करने की कगार पर ला दिया था। ईलाज पर अधिक पैसा खर्च होने की बात थी, जोकि उनकी हैसियत से बाहर था। परंतु सोनू सूद उनके लिए फरिश्ता बनकर आए हैं। वह उनका जितना आभार जताएं उतना कम है।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -