Tuesday, April 20, 2021
- Advertisement -

चार प्रयास में तीन बार सफल होने के बाद भी नहीं मिली मंजिल, चौथी बार फिर किया प्रयास, बन गई IAS

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

सिविल सर्विस की तैयारी करने वाले छात्र पहले प्रयास में सफल नहीं होने के बाद दूसरी बार परीक्षा देते हैं। अगर वह दूसरी बार भी परीक्षा में सफल नहीं होते है तो वह तीसरा प्रयास करते हैं। ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है कि तीन प्रयास में सफल होने के बाद छात्र चौथा प्रयास करे। अपने चौथे प्रयास में आईएएस बनी रोमा श्रीवास्तव ऐसे ही युवाओं में शामिल है। रोमा ने साल 2019 में यूपीएससी की सीएसई परीक्षा 70वी रैंक के साथ पास की थी। उनका चौथा प्रयास था। इससे पहले भी वह दो बार चयनित हो चुकी है। लेकिन इच्छानुसार रैंक नहीं मिलने के कारण उन्होंने दोबारा परीक्षा दी।

लगातार दो बार यूपीएससी सीएसई किया था क्लियर

वर्ष 2019 में अपने चौथे प्रयास में सफल होने वाली रोमा ने इससे पहले लगातार दो बार यूपीएससी सीएसई परीक्षा क्लियर की थी। उन्होंने पहला प्रयास वर्ष 2016 में किया। जिसमें उनका सलेक्शन नहीं हुआ। इसके बाद वर्ष 2017 में परीक्षा दी। वह सेलेक्ट हो गई। इस बार की रैंक के अनुसार उन्हें इंडियन पोस्ट एंड टेलीकॉम सर्विस मिला। रोमा इससे रैंक से संतुष्ट नहीं हुई। इसके बाद उन्होंने वर्ष 2018 में परीक्षा दी। जिसके बाद वह आईपीएस चुनी गई। फिर उन्होंने प्रयास फिर किया। वर्ष 2019 में रोमा ने 70वी रैंक के साथ अपनी मंजिल हासिल की।

बिना कोचिंग करती रही तैयारी
रोमा बताती है कि उन्होंने कभी भी सिविल सर्विस की तैयारियेंा के लिए कोचिंग नहीं ली। वह बताती है कि उन्होंने इंटरनेट का खूब इस्तेमाल किया। इंटरनेट से उन्हें काफी मदद मिली। रोमा कहती है कि यूट्यूब उनके लिए वरदान की तरह साबित हुआ। वह कभी भी किसी विषय में परेशान हुई तो उन्होंने यूट्यूब की मदद से अपनी उलझने दूर की। मोटिवेशनल वीडियो देखकर अपने आपको प्रेरित करती रही।

कट आफ निकालने पर किया फोकस

रोमा बताती है कि तैयारी करने वाले छात्रों को केवल कट आफ निकालने पर फोकस करना चाहिए। ज्यादा अंक लाने का कोई फायदा नहीं है। सबसे पहले अपने बेसिक्स से शुरुआत करे। तैयारी होने के बाद खूब मॉक टेस्ट दे। वह बताते है कि इस परीक्षा को क्लियर करने का तरीका है कि जमकर टेस्ट देना। रोमा बताती है कि जिस क्षेत्र में आप वीक है। उसमें अधिक ध्यान दे। जिस विषय में आप मजबूत है, उसमें कम ध्यान देने से भी काम चल सकता है।

इंजीनियरिंग बैकग्राउंड से आती है रोमा

रोमा इंजीनियरिंग बैकग्राउंड से आती है। जहां सी सैट पेपर में उन्हें इसका फायदा मिला। वहीं मेन्स की तैयारी के दौरान आर्ट्स के विषय पढऩे में थोड़ी परेशानी सामने आई। हालांकि रोमा को इससे मेहनत तो अधिक करनी पड़ी। उन्होंने अपनी मंजिल पर जाने वाला रास्ता नहीं छोड़ा। उन्होंने इंटरनेट की मदद लेते हुए जमकर वीडियो देखे। वेबसाइट की मदद की। रोमा कहती है कि स्मार्ट स्टडी से भी सिविल सर्विस को पास किया जा सकता है।

 

 

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -