Thursday, April 22, 2021
- Advertisement -

पिता चलाते हैं ऑटो रिक्शा, बेटी ने भूखे पेट सोकर काटी रातें अब बन चुकी हैं फेमिना मिस इंडिया 2020

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

यूं तो हर कोई जीवन में सफलता को पाना चाहता है लेकिन सफलता पाने के लिए बुलंद हौंसलों का होना बहुत जरूरी है| आमतौर पर लोग सफलता तो पाना चाहते हैं लेकिन सफलता के रास्ते में आने वाली समस्याओं का सामना ही नहीं कर पाते| लेकिन आज हम आपको एक ऐसी शख्स से मिलाने जा रहे हैं जिसने तमाम कठिनाइयों के बाद भी हार नहीं मानी और सफलता को हासिल कर बन गईं फेमिना मिस इंडिया 2020 आइए जानते हैं मान्या सिंह के बारे में|

Instagram/Manyasingh

यूपी की रहने वाली हैं मान्या सिंह

बता दें कि मान्या सिंह उत्तरप्रदेश के कुशीनगर की रहने वाली हैं और आज वह उन लोगों के लिए मिसाल बन चुकी हैं जो गरीबी के कारण अपने सपनों को पूरा करने का प्रयास तक नहीं करते हैं| आज मान्या सिंह की कहानी सभी को बहुत प्रेरित कर रही है| मान्या बचपन से ही बहुत ही मेहनती लड़की हैं और आज अपनी कड़ी मेहनत से वह फेमिना मिस इंडिया 2020 का खिताब अपने नाम कर चुकी हैं|

पिता चलाते हैं ऑटो रिक्शा, भूखे पेट काटी रातें

दरअसल मान्या के पिता घर खर्च चलाने के लिए ऑटो रिक्शा चलाते हैं| मान्या के घर की आर्थिक स्थिति बिल्कुल अच्छी नहीं है| ऐसे में ऐसी बहुत सी रातें आई जब मान्या और उनके परिवार को भूखे पेट सोना पड़ता था| लेकिन ऐसी स्थिति में भी मान्या कभी कमजोर नहीं पड़ी और अपने सपनों को पूरा करने का प्रयास करती रहीं|

गरीबी के कारण स्कूल में भी किया जाता था भेद-भाव

मान्या बताती हैं कि जब वह स्कूल में थी तो गरीबी के कारण उन्हें स्कूल में भी भेद-भाव का सामना करना पड़ता था| घर के आर्थिक हालातों को सुधारने के लिए मान्या ने कॉल सेंटर में भी नौकरी की है| मान्या पैसों को बचाने के लिए कभी-कभी कई किलोमीटर पैदल चलकर जाया करती थी| लेकिन आज मान्या की मेहनत रंग लाई और आज वह फेमिना मिस इंडिया 2020 बन चुकी हैं|

मुंबई में हुआ प्रतियोगिता का आयोजन

बता दें कि इस प्रतियोगिता का आयोजन 10 फरवरी को मुंबई शहर में हुआ था| जिसमें मान्या ने फेमिना मिस इंडिया 2020 का खिताब जीता| आज मान्या सभी की प्रेरणास्त्रोत बन चुकी हैं| मान्या की कामयाबी की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं और लोग भी मान्या के स्ट्रगल की खूब तारीफ कर रहे हैं|

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -