Thursday, April 22, 2021
- Advertisement -

इस महिला ने लॉकडाउन में सीखी गार्डनिंग, अब अपनी छत पर ही उगाई सब्जियों का करती है इस्तेमाल

Must Read

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...

अलग ही मिट्टी के बने तुषार, 17 साल तक असफलताओं से लड़े, अब बने जज

लोग दो या तीन साल की मेहनत के बाद सफल नहीं होते है तो वह टूट जाते है। लोग...

शहर घूमने सडक़ों पर निकला कोबरा तो रूक गया ट्रैफिक, घटना का वीडियो वायरल

वन्य जीवों के शहर में घूसने के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं। कभी तेंदुआ तो कभी कोई...

कोरोनाकाल में लागू हुए लॉकडाउन ने लोगों की जिंदगी के कई अनुभव दिए। इन अनुभवों को शायद ही हम कभी भूल पाए। लॉकडाउन के दौरान मिले खाली समय में कोई तनाव में चला गया तो किसी भी पाजिटिव पहल करते हुए नई चीजों को सीखा। ऐसे भी लोगों में आर्किटेक्ट एलिजाबेथ चेरियन शामिल है। एलिजाबेथ ने कोरोनाकाल में मिले खाली समय का प्रयोग गार्डनिंग सीखने के लिए किया। इसके बाद वह धीरे धीरे इसमे निपुण हो गई। अब वह अपने घर में उगी सब्जियों को ही किचन में इस्तेमाल करती है। उन्हें बाहर से कुछ गिने चुनी सब्जियां ही खरीदनी पड़ती है।

 

Representation image pixabay

होम गार्डनिंग की शुरुआत

कोच्चि में रहने वाली एलिजाबेथ पिछले कई सालों से अपने क्लाइंट होम गार्डन डिजाइन कर रही है। लेकिन वह कभी भी अपने लिए समय नहीं निकाल पाई। लेकिन लॉकडाउन ने उन्हें गार्डनिंग का शौक पूरा करने का मौका दे दिया। उन्होंने अक्टूबर माह में नर्सरी में जाक र 30 से अधिक किस्म के पौध और फ लों के बीज ले आई। एलिजाबेथ के परिवार में पतिा, भाई और दो बच्चे शामिल है।

उत्पाद अधिक होने पर दूसरों को भी करती है वितरित

एलिजाबेथ सब्जियां और फल अधिक होने पर दूसरों को भी वितरित करती है। वह अपने रिश्तेदारों और पड़ोसी के यहां फल भिजवा देती है। एलिजाबेथ के अनुसार जब भी वह अपने गार्डन में जाती है उन्हें बीस से अधिक टमाटर दिखाई पड़ते हैं। उनके रिश्ेतदारों में चाचा, चाची, दादा, भाई बहन शामिल है। इनके गार्डन में पत्तेदार सब्जियां, पुदीना, धनिया शामिल है। वह बताती है कि उनके घर में दोपहर के समय दो तरह की सब्जियां बनाई जाती है।

इस तरह से बनी गार्डनर

एलिजाबेथ के अनुसार उन्हें पहले गार्डनिंग के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। इसलिए उन्होंने सबसे पहले गार्डनिंग को लेकर जानकारी एकत्र की। सबसे पहले एलिजाबेथ ने रातभर बीजों को चावल के पानी में भिगोया। इसके बाद उन्होंने चावल की भूसी, खाद और मिट्टी को मिलाकर पॉटिंग मिक्स बना दिया। इसके साथ ही मिट्टी की उर्वरकता को बढ़ाने के लिए पानी में गोबर, पिट केक और वर्मीकम्पोस्ट मिलाया। एलिजाबेथ के अनुसार मिट्टी में पोषक तत्व होंगे तभी पौधे पनप पाएंगे। वह कहती है सब्जियां खाने के बहाने उनके गार्डन में कई तरह के पक्षी आते हैं। जिन्हें देखकर उन्हें काफी खुशी मिलती है। इसी बहाने वाले प्रकृति और पक्षियों के लिए भी कुछ कर पा रही है। एलिजाबेथ के अनुसार वह अपने गार्डन में अब आलू और अदरक भी उगाना चाहती है। जल्द ही इसमें सफलता भी मिलेगी।

- Advertisement -

Latest News

वैलंटाईन डे मनाने का अनोखा तरीका,मालगाड़ी के नीचे पहुंच गया प्रेमी जोड़ा, फोटो देखकर आएगा मजा

वैलंटाईन डे को प्यार के दिन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में प्रेमी जोड़े...
- Advertisement -

और भी पढ़े

- Advertisement -